अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ताशकंद फाइल्स को लेकर काफी चर्चा है। फिल्म में शास्त्री की मौत को लेकर कई पहलू दिखाने की कोशिश है। इसे प्रोपगंडा फिल्म माने जाने की बात पर विवेक कहते हैं कि जो हकीकत है उसे मैं तो नहीं बदल सकता।

विवेक सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पूर्ण रूप से सपोर्ट करते हैं। इस बारे में वह कहते हैं कि मैं मोदी समर्थक हूं। लेकिन इसका मतलब नहीं कि मैं भाजपा सपोर्टर हूं। ऐसा नहीं है कि कोई और भी मोदी जी की जगह पर भाजपा में होगा तो मैं उन्हें सपोर्ट करने लगूंगा। चूंकि मैं मानता हूं कि वह समर्थ नेता हैं। उनका कहना है कि उन्होंने केजरीवाल को भी एक दौर में काफी सपोर्ट किया था। यही नहीं उनके लिए जाकर कैंपेनिंग भी की थी। लेकिन उनसे उन्हें बहुत ही निराशा हाथ लगी।

वह कहते हैं कि मैं जब यूथ था तो यूथ के टैलेंट की कोई कद्र नहीं थी। आज लेकिन पहली बार देश अलग तरीके से सोच रहा है । यह मुझे उनकी खासियत लगती है। यह पूछे जाने पर कि हाल ही जो बॉलीवुड के युवा लोग प्रधानमंत्री से मिलने गए थे, उसे लेकर उनकी क्या राय है।

विवेक का कहना है कि यह अच्छी बात है कि उन लोगों ने बातचीत की। लेकिन बॉलीवुड पॉलिटिकल मामलों में उतना भी अहम नहीं है। चूंकि आधे से अधिक लोग तो वोट डालने जाते भी नहीं हैं।