मुंबई। 26 अप्रैल को हॉलीवुड फ़िल्म अवेंजर्स एंडगेम्स रिलीज़ हो गयी है। हर तरफ इस फ़िल्म का शोर है ऐसे में एक छोटे बजट की फ़िल्म रिस्कनामा अपने सातवें सप्ताह में प्रवेश करे तो यह कोई छोटी बात नहीं। रिस्कनामा से नवोदित अभिनेता सचिन खारी ने डेब्यू किया है।

ख़ास बात यह भी है कि फ़िल्म में सचिन डबल रोल में नज़र आये हैं। ऐसा कम ही देखने को मिला है कि कोई स्टार अपनी पहली फ़िल्म में ही डबल रोल में नज़र आया हो। गौरतलब है कि रितिक रोशन 'कहो न प्यार है' में डबल रोल से लॉन्च हुए थे लेकिन, उससे पहले रितिक 'भगवान दादा' फ़िल्म में रजनीकांत के साथ एक बाल कलाकार के रूप में काम कर चुके थे। लेकिन, सचिन ने पहली बार रिस्कनामा में ही कैमरा फेस किया और वो भी डबल रोल में।

यह भी पढ़ें: Avengers Endgame स्क्रीनिंग में परिवार संग पहुंचे अक्षय कुमार, आलिया-रणबीर समेत ये स्टार्स भी आये नज़र, Photos

 

सचिन के करियर की शुरुआत भी कम फ़िल्मी नहीं है। सचिन 20 साल की उम्र में पहली बार फ़िल्मों में अपनी किस्मत आज़माने के लिए अपने पिता के साथ मुंबई आये थे। लेकिन, उन्हें इस शहर से खाली हाथ वापस दिल्ली लौटना पड़ा। लगभग आठ साल के बाद वो दोबारा एक नयी उम्मीद और ऊर्जा लेकर मुंबई लौटे लेकिन, इस बार भी कुछ ख़ास नहीं हो सका और दो साल संघर्ष करने के बाद सचिन अपने बीमार पिता के पास दिल्ली लौट गए। इस बीच फ़िल्म डायरेक्टर अरुण नागर अपनी फ़िल्म रिस्कनामा पर काम शुरू कर रहे थे और उन्हें अपने रोल के लिए एक फ्रेश चेहरे की तलाश थी। पुरानी जान पहचान के जरिये अरुण नागर ने यह रोल सचिन को दे दिया और उसके बाद सचिन ने अपनी मेहनत और इनर्जी से अरुण नागर को सही साबित किया।

अरुण नागर कहते हैं कि यह फ़िल्म बड़े और छोटे भाई की कहानी है। सचिन फ़िल्म में पहले बड़े भाई का किरदार कर रहे थे। लेकिन, छोटे भाई के किरदार में जो एक्टर था वो रिहर्सल के दौरान भी जम नहीं पा रहा था। ऐसे में शूटिंग से एक दिन पहले तय हुआ कि दोनों भाई का रोल सचिन ही करेंगे। अंतिम क्षण में आये इस चुनौती को सचिन ने स्वीकार किया और उन्होंने खूब मेहनत की। अरुण नागर बताते हैं कि सचिन की इनर्जी से सेट पर हम सबको भी बहुत ऊर्जा मिली। बता दें कि तमाम बड़ी फ़िल्मों के बीच रिस्कनामा इस शुक्रवार सातवें सप्ताह में प्रवेश कर गया है और अभी भी दर्शक लगातार फ़िल्म देखने पहुंच रहे हैं।