मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पराग छापेकर, जेएनएनl Mission Mangal Film Review: जब भी कोई इंसान मुसीबतों से लड़कर कुछ असाधारण उपलब्धि हासिल करता है तो जाहिर तौर पर समाज के लिए वह एक प्रेरणा स्त्रोत होता है! जब यह उपलब्धि राष्ट्रीय उपलब्धि बन जाए तो फिर हर भारतीय के मन में एक गर्व पैदा करता है|

पिछले कुछ समय से भारतीय सिनेमा कुछ ऐसे ही असाधारण नायकों की कहानियां कह रहा है जिन की उपलब्धियों से समाज, इंसानियत और देश को एक दिशा मिलती है और एक नया प्रेरणा स्त्रोत हासिल होता हैl ऐसी ही एक असाधारण कहानी है मिशन मंगल कीl 

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Buckle up and get ready for India’s journey to Mars. #MissionMangal is in cinemas! Book your tickets NOW! Link in bio

A post shared by Akshay Kumar (@akshaykumar) on

यह कहानी है राकेश धवन की, जो इसरो में एक वैज्ञानिक हैl राकेश को जीएसएलवी C39 प्रोजेक्ट के तहत रॉकेट भेजने का जिम्मा दिया जाता है मगर मिशन असफल हो जाता हैl ऐसे में उनका तबादला कई सालों से बंद पड़े मिशन मंगल डिपार्टमेंट में कर दिया जाता हैl वहां उनकी मुलाकात होती है एक दूसरी वैज्ञानिक तारा शिंदे (विद्या बालन) से, तारा भी काफी समय से इस डिपार्टमेंट में है। 1 दिन अचानक तारा को होम साइंस के आधार पर अंतराल में राकेट भेजने का का आईडिया आता है। किस तरह से यह मिशन प्रतिरोधों के बावजूद पूरा होता है। किस तरह से बनाई जाती है। किस तरह से यान भेजा जाता है इसी पर आधारित मिशन मंगल।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

“Kar ke dikha kamaal vo, aake zameen pe, deke jaaye aasman, Shaabaashiyaan”! New song #Shaabaashiyaan of #MissionMangal out now. Link in bio. @taapsee @SonakshiSinha @vidya_balan @sharmanjoshi @menennithya @IamKirtiKulhari @shaktijagan @foxstarhindi #CapeOfGoodFilms #HopeProductions @zeemusiccompany

A post shared by Akshay Kumar (@akshaykumar) on

गौरतलब है कि यह कैसा मिशन रहा जिसे देख कर दुनिया हैरत में पड़ गई क्योंकि स्पेस की दुनिया का यह सबसे सस्ता और सफल अभियान रहा है निर्देशक जगन शक्ति ने इस कहानी को बहुत ही खूबसूरती से स्क्रीन प्ले में ढाला हैl सारे किरदार उनके ही इशारे पर पूरी पकड़ के साथ पर्दे पर नजर आते हैं। फिल्म में सिर्फ स्पेशल इफेक्ट और कंप्यूटर ग्राफिक्स और काम किया जाता तो बेहतर होता। अंतरिक्ष के दृश्यों में कमजोरी नजर आती है। अभिनय की बात करें राकेश धवन के किरदार में अक्षय कुमार पूरी तरह से जचे है अपने संवादों के माध्यम से वह दर्शकों को मुस्कुराने पर मजबूर कर देते हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

This is exactly how the #MissionMangal journey has been, a little topsy-turvy but fun nonetheless. Catch it in cinemas this Thursday! @taapsee @aslisona @balanvidya @sharmanjoshi @nithyamenen @iamkirtikulhari #JaganShakti @foxstarhindi #CapeOfGoodFilms #HopeProductions

A post shared by Akshay Kumar (@akshaykumar) on

तारा शिंदे के किरदार में विद्या बालन ने भी बहुत खूबसूरती से परफॉर्म किया है। एका गांधी के किरदार में सोनाक्षी सिन्हा एकदम जचती है। तापसी पन्नू को हालांकि बहुत काम नहीं मिला मगर जितना उनके हिस्से आया पूरी ईमानदारी से निभाया है। इसके अलावा विक्रम गोखले दिलीप ताहिल जैसे वरिष्ठ कलाकार फिल्म को और विश्वसनीयता प्रदान करते हैं।

यह भी पढ़ें: Batla House Film Review: Independence Day 2019 पर John Abraham की फिल्म को मिले इतने स्टार्स

कुल मिलाकर मिशन मंगल एक ऐसी कहानी है जो आपको एक भारतीय होने के नाते गर्व और देश प्रेम से भर देती है और जहां प्रेम होता है आप छोटी मोटी गलतियां माफ कर देते हैं। एक भारतीय होने के नाते गर्व महसूस करने के लिए आप यह फिल्म देख सकते हैं। क्योंकि यह कैसे मिशन पर आधारित है जो दुनिया के लिए मिसाल है।

5 में से 3.5 स्टार

Posted By: Rupesh Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप