Move to Jagran APP

Meena Kumari: बचपन से लेकर अंतिम समय तक मीना कुमारी की जिंदगी में हुई कई ट्रेजेडी, प्यार में भी रहीं अनलकी

Meena Kumari Death Anniversary बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में ट्रेजडी क्वीन के नाम से मशहूर मीना कुमारी एक ऐसी अभिनेत्री थीं जिनका जादू आज दशकों बाद भी कायम है। आज भले ही हमारे बीच नहीं हैं लेकिन वह हमेशा ही अपने फैंस के दिलों में जिंदा रहेंगी। उ

By Priti KushwahaEdited By: Priti KushwahaPublished: Fri, 31 Mar 2023 12:45 PM (IST)Updated: Fri, 31 Mar 2023 12:45 PM (IST)
Photo Credit : meenakumarijifc Instagram Photos Screenshot

नई दिल्ली, जेएनएन। Meena Kumari Death Anniversary: हिंदी सिनेमा की दिग्गज अभिनेत्री मीना कुमारी एक ऐसी कलाकार थीं, जिनका जादू आज कई दशकों बाद भी कायम है। मीना कुमारी आज भले ही इस दुनिया में नहीं हैं, लेकिन वह अपने दर्शकों के दिलों में जिंदा हैं। वह न सिर्फ अपनी खूबसूरती बल्कि अपनी दमदार अदाकारी और डायलॉग्स के लिए भी याद की जाती हैं, लेकिन क्या आपको पता है उन्हें इंडस्ट्री में ट्रेजडी क्वीन के नाम से जाना जाता है। आइए जानते हैं आखिर उन्हें ये नाम कैसे मिला।

loksabha election banner

पर्सनल लाइफ को लेकर रहीं चर्चा में

1 अगस्त, 1932 को जन्मी मीना कुमारी का निधन आज ही के दिन यानी 31 मार्च, 1972 को हुआ था। मीना कुमारी ने अपने 30 साल के फिल्मी करियर में करीब 90 से ज्यादा फिल्मों में काम किया। मीना प्रोफेशनल लाइफ से कहीं ज्यादा अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर चर्चा में रही हैं। ये कहना गलत नहीं होगा की मीना कुमारी की लाइफ किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं थी। पैदा होते ही मीना कुमारी के पिता ने उन्हें अनाथ आश्रम में छोड़ दिया था, लेकिन उस वक्त ये बात  कोई नहीं जानता था कि एक वक्त वो हिंदी सिनेमा पर राज करेंगी।  

मजबूरी में किया फिल्मों में काम

मीना कुमारी के नाम से पूरी दुनिया में फेमस एक्ट्रेस का असली नाम महजबीन था। मीना कुमारी को पर्दे पर देखने वाला यही सोचता होगा कि उनकी पहली और आखिरी ख्वाहिश अभिनय करना होगा, लेकिन ये बात सच नहीं है। मीना कुमारी शौक से हीरोइन नहीं बनी थी, बल्कि परिवार की मजबूरी उन्हें फिल्मों की दुनिया में ले आई थी। बता दें कि मीना कुमारी ने बचपन से ही बहुत दुख और दर्द झेले। वहीं, फिल्मी पर्दे पर भी उन्हें ट्रेजेडी रोल ही मिले।  शायद इसी वजह से मीना कुमारी को ट्रेजेडी क्वीन  कहा जाने लगा था। शादी के बाद भी मीना कुमारी की लाइफ में दर्द कम नहीं हुआ। शादी के बाद भी उन्हें काफी दुख झेलने पड़े।  

कमाल अमरोही से शादी  

मीना कुमारी की शादीशुदा लाइफ भी ठीक नहीं थी। उनकी मुलाकात मशहूर फिल्मकार कमाल अमरोही साल 1951 में फिल्म  तमाशा  के सेट पर हुई थी। धीरे-धीरे दोनों एक दूसरे के करीब आते गए और एक साल  के अंदर ही दोनों ने निकाह कर लिया था। यह कमाल अमरोही की तीसरी शादी थी। हालांकि 12 साल के भीतर ही दोनों के रिश्तों में दरार आ गई। इसके बाद एक दिन उन्होंने मीना कुमारी को तीन तलाक दे दिया था।

इन फिल्मों ने बनाया हिट

मीना कुमारी की पहली फिल्म का नाम 'फरजंद-ए-वतन' है जो कि साल 1939 में रिलीज हुई थी। इसके बाद उन्होंने 'वीर घटोत्कच', 'बैजू बावरा', 'परिणीता', 'आजाद', 'एक ही रास्ता', 'मिस मैरी', 'शारदा', 'कोहिनूर','दिल अपना और प्रीत पराई' से पहचान मिली। उनकी फिल्मों के डायलॉग्स भी काफी हिट रहे हैं।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.