पालघर, प्रेट्र। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने 21 अक्टूबर को होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले ठाणे और पालघर में रैलियों को संबोधित किया। मतदाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि उनका दल पालघर जिले के वसई-विरार क्षेत्र में बढ़ती 'गुंडागर्दी 'को रोकने के लिए प्रतिबद्ध है, इसके लिए उन्होंने जनता से सहयोग मांगा। 

रैली के दौरान ठाकरे ने जनता से सत्तारूढ़ बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को एक बार और चुनने की अपील की। शिवसेना प्रमुख ने कहा कि वसई-विरार इलाके में लगातार बढ़ती गुंडागर्दी की शिकायतों की वजह से उन्होंने एनकाउंटर स्पेशलिस्ट रह चुके प्रदीप शर्मा को भी नालासोपारा विधान सभा से चुनाव लडऩे के लिए टिकट दिया है। 

ठाकरे ने विधानसभा चुनाव में प्रदीप शर्मा के लिए टिकट की मांग करते हुए कहा कि मैंने एक पुलिसकर्मी को मैदान में उतारा है, अब आप यह फैसला करना है कि आप अपने प्रतिनिधि के रूप में पुलिसकर्मी का चुनाव करते हैं या चोर का। उन्होंने कहा कि हम इस क्षेत्र को गुंडागर्दी से मुक्त करना चाहते हैं। शिवसेना प्रमुख ने कहा कि उनका दल क्षेत्र के सभी विकास कार्यो को समर्थन करता है, यदि ये परियोजनाएं आम व्यक्ति पर असर डालती है तो पार्टी सड़कों पर प्रदर्शन करने से भी परहेज नही करेगी। 

Maharashtra assembly elections 2019: मुंबई भाजपा प्रमुख को चुनाव आयोग का नोटिस, जानें क्‍या है कारण

ठाकरे ने जनता को संबोधित करने हुए कहा कि पालघर के वधावन में जवाहर लाल नेहरू पत्तन न्यास द्वारा नियोजित उपग्रह बंदरगाह का यदि आप लोग विरोध करते हैं तो उसे रद कर दिया जाएगा। ठाकरे ने ठाणे में शिवसेना उम्मीदवार एकनाथ शिंदे के लिए प्रचार करते हुए कहा कि महाराष्ट्र सरकार ने पिछले पांच वर्षो में जो भी काम किए हैं, उनमें उनकी पार्टी का काफी योगदान है, उन्होंने भाषण के दौरान विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस और एनसीपी के पास कोई भी ऐसा मुद्दा या एजेंडा नहीं है जिस पर वे आगामी चुनाव में बात कर पाये।  

Maharashtra assembly elections 2019 कांग्रेस ने 370 के हक में वोट दिया, ना कि इसके खिलाफ: मनमोहन सिंह

 महाराष्ट्र की अन्य खबरें पढऩे के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप