मुंबई, एएनआइ। मुंबई में 16 अक्टूबर को चुनावी रैली के दौरान भड़काऊ भाषण देने के आरोप में चुनाव आयोग ने मुंबई भाजपा प्रमुख मंगल प्रभात लोढ़ा को नोटिस जारी किया है। प्रदर्शन निदेशालय ने इस मामले में लोढ़ा से उनके दिये बयान पर जवाब और स्पष्टीकरण देने को कहा है। 

गौरतलब है कि मुंबई भाजपा प्रमुख मंगल प्रभात लोढ़ा ने 16 अक्टूबर को चुनावी रैली के दौरान मध्य मुंबई की मुंबादेवी सीट से शिवसेना उम्मीदवार पंडुरांग सकपाल के लिए प्रचार करते समय सन 1993 में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों और दंगों के साथ कथित रूप से अल्पसंख्यक बहुल क्षेत्र को जोड़ दिया था।

 

चुनावी भाषण के दौरान मुंबई भाजपा प्रमुख लोढ़ा ने एक ऑडियो क्लिप में कथित भाषण में कहा था कि 1992 के दंगों में याद कीजिये जब धमाके हुए और गोलियां चलीं, वे यहां से महज पांच किलोमीटर दूर गलियों से चली थीं। मुंबई में 1993 में हुए इन बम धमाकों और दंगों के बाद 250 से अधिक लोगों की मौत हो गयी थी।

Maharashtra assembly elections 2019 कांग्रेस ने 370 के हक में वोट दिया, ना कि इसके खिलाफ: मनमोहन सिंह

चुनावी रैली में मंगल प्रभात लोढ़ा ने कांग्रेस उम्मीदवार अमीन पटेल का नाम लिए बिना कह रहे थे कि उनके वोटों से जीत हासिल करने वाला व्यक्ति आपकी मदद के लिए कैसे आगे आएगा? मुंबादेवी में डोंगरी और नागपाड़ा जैसे अनेकों इलाके शामिल हैं, जिनमें काफी ज्यादा अल्पसंख्यक लोग रहते हैं, उन्होंने कहा यहां पुरानी इमारतों के ढह जाने के बाद, निवासियों को मानखुर्द और धारावी में भेज दिया गया। ऐसा लगता है इन क्षेत्रों में (मानखुर्द और धारावी) एक विशेष समुदाय को ही भेजा गया, जबकि मराठी भाइयों को दूसरे इलाकों में बने शिविरों में जाना पड़ा था। 

Maharashtra Elections 2019: भाजपा का घोषणा पत्र जारी, जानें कौन से वादों का किया एलान

Maharashtra assembly elections 2019: नारायण राणे के कारण दो जिलों में आमने-सामने हैं शिवसेना-भाजपा

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस