जलगांव (महाराष्ट्र), एएनआइ। भविष्य में कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के विलय के सवाल पर शरद पवार ने सुशील कुमार शिंदे को तल्ख जवाब दिया है। विलय का सुझाव देने पर कांग्रेस नेता शिंदे की आलोचना करते हुए राकांपा प्रमुख पवार ने कहा कि शिंदे को अपनी पार्टी के बारे में सोचना चाहिए, राकांपा के बारे में क्या करना है उसको देखने के लिए वो हैं।

यहां प्रेस कांफ्रेंस में पवार ने कहा, 'राज्य में कांग्रेस और राकांपा गठबंधन में साथ काम कर रही हैं। सुशील कुमार शिंदे को कांग्रेस का विचार रखना चाहिए, राकांपा का नहीं। मैं राकांपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष हूं और मेरी पार्टी की स्थिति के बारे में मुझसे ज्यादा कोई दूसरा नहीं जानता।'

सोलापुर में मंगलवार को राकांपा प्रत्याशी के समर्थन में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए शिंदे ने कहा था, 'अंतत:, कांग्रेस और राकांपा, भले ही ये दोनों दल अलग-अलग हों, मैं आपको इस मंच से बताता हूं कि ये दल निकट भविष्य में करीब आएंगे और कांग्रेस का एकीकरण होगा।'

शिंदे ने आगे कहा था, 'कांग्रेस और एनसीपी दोनों बराबर हैं। हम दोनों एक ही पेड़ के नीचे बड़े हुए हैं। इंदिरा गांधी और यशवंत राव चव्हाण के नेतृत्व में आगे बढ़े हैं।'

बता दें कि सोनिया गांधी के विदेशी मूल का मुद्दा उठाते हुए शरद पवार 1998-99 में कांग्रेस से अलग हो गए थे। बाद में उन्होंने तारिक अनवर, पीके संगमा के साथ मिलकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का गठन किया था।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और राकांपा गठबंधन बनाकर चुनाव लड़ रहे हैं। उनका सीधा मुकाबला सत्तारूढ़ भाजपा-शिवसेना गठबंधन से है।

चुनाव बाद रिटायर हो जाएंगे पवार: पाटिल

मुंबई, प्रेट्र : महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने बुधवार को कहा कि विधानसभा चुनाव के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार राजनीति और सामाजिक जीवन से स्थायी रूप से रिटायर हो जाएंगे।

पाटिल ने कोल्हापुर जिले के राधानगरी तहसील में शिवसेना प्रत्याशी प्रकाश अबितकर पक्ष में रैली को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने राकांपा की भी आलोचना की।

महाराष्ट्र चुनाव की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप