हल्द्वानी, जेएनएन : सिटिंग सांसद भगत सिंह कोश्यारी की ना-नुकुर के बावजूद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट नैनीताल लोकसभा सीट से टिकट पाने में सफल हो गए हैं। अजय आरएसएस नेताओं की करीबी माने जाते हैं। हाइकमान में भी मजबूत पकड़ रखते हैं। यही कारण है कि तमाम प्रतिद्वंद्वियों के सामने वह टिकट हासिल करने में आगे रहे।
रानीखेत निवासी अजय भट्ट पिछले एक दशक से सरकार व संगठन में कई महत्वपूर्ण पदों पर हैं। इस समय पार्टी में प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी निभा रहे हैं। इलेक्शन मैनेजमेंट के अलावा संगठन चलाने का अच्छा अनुभव रखते हैं, लेकिन वह पहली बार सांसद का चुनाव लड़ेंगे। हालांकि, वह अल्मोड़ा संसदीय क्षेत्र से आते हैं। इसलिए उन्हें इस सीट पर अधिक मेहनत की जरूरत पड़ेगी। सिटिंग विधायक व अन्य दावेदारों को साधना भी चुनौती रहेगा।

प्रोफाइल
नाम - अजय भट्ट
पिता का नाम - स्व. कमलापति भट्ट
माता का नाम - स्व. तुलसी देवी भट्ट
जन्म तिथि - 01-05-1961
पता - 784, गांधी चौक रानीखेत जिला अल्मोड़ा।
शिक्षा - एलएलबी
वैवाहिक स्थिति - विवाहित
पत्नी - पुष्पा भट्ट, व्यवसाय वकालत
परिवार - तीन पुत्रियां व एक पुत्र। क्रमश : मेघा भट्ट बीटेक व एमबीए (विवाहित), स्नेहा भट्ट बीटेक व एमबीए, सुनीता भट्ट वकालत पूर्ण व पुत्र दिग्विजय भट्ट एलएलबी में अध्ययनरत।
विदेश यात्राएं - कनाडा, आस्ट्रेलिया व इंग्लैंड
पार्टी से जुड़ाव - विद्यार्थी जीवन में विद्यार्थी परिषद से जुड़ाव एवं 1980 से सक्रिय सदस्य व पूर्व में पूरा परिवार जनसंघ में समर्पित।
जेल यात्राएं - डॉ. मुरली मनोहर जोशी के नेतृत्व में उत्तरांचल राज्य प्रगति के लिए अल्मोड़ा में गिरफ्तारी, अयोध्या मंदिर निर्माण के लिए दो बार गिरफ्तारी 18-10-1990 व 26-10-1990 में, 08-12-1990 को मुलायम सिंह के अयोध्या कांड के बाद प्रथम बार सार्वजनिक तौर पर रानीखेत आगमन पर प्रबल विरोध में गिरफ्तारी एवं मुकदमा कायम।

राजनीतिक जीवन

31 दिसंबर 2015 से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष
19-05-2012 से 15 मार्च 2017 तक नेता प्रतिपक्ष
2001 में अंतरिम सरकार में कैबिनेट मंत्री का दायित्व
1996 से 2000 तक विधायक रानीखेत, 2002 से 2007 तक पुन: विधायक रानीखेत
मंत्री विधान मंडल दल 2002 से 2007 तक
दो बार प्रदेश महामंत्री रहे
28-10-2009 से 25-12-2011 तक उत्तराखंड सरकार में राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ सलाहकार एवं अनुश्रवण परिषद के अध्यक्ष

यह भी पढ़ें : चुनावी मौसम में तैयार होने लगे भोंपू, हल्द्वानी में चालकों के सजने लगे ई-रिक्शा और ऑटो

यह भी पढ़ें : भाजपा ने प्रत्याशियों की भले न विधिवत घोषणा की लेकिन संभावित प्रत्याशी सहेजने लगे बूथ

Posted By: Skand Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप