कानपुर, जेएनएन। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा के लोग इस गंठबंधन को महामिलावट बता रहे हैं, फिर भाजपा 38 पार्टियों का गंठबंधन है तो उसे कौन सा कहेंगे। कहा, हमारे इस गठबंधन के बारे में किसी ने सोचा नहीं होगा, ये तीन पार्टी वाला है, इसमें गरीब, किसान और बेरोजगार का गठबंधन है। वह बुधवार को कानपुर लोकसभा संसदीय क्षेत्र में पार्टी प्रत्याशी के समर्थन में जीआईसी मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

कानपुर में लोकसभा चुनाव में गठबंधन प्रत्याशी के लिए बुधवार पहली बड़ी जनसभा का आयोजन हुआ। जीआइसी मैदान में आयोजित जनसभा में दोपहर बाद करीब डेढ़ बजे सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पहुंचे। मंच पर पहुंचकर अखिलेश ने संबोधन में सबसे पहले भाजपा पर निशाना साधा। कहा, अच्छे दिन आएंगे, नौकरी मिलेगी लेकिन सबकुछ तो छिन गया। क्या नोट बंदी से काला धन खत्म हो गया, क्या भ्रष्टाचार खत्म हुआ। हजारों करोड़ रुपये लेकर उघोगपति देश छोड़ गए और आज तक नहीं आए। 
उन्होंने आवारा पशुओं की समस्या उठाते हुए तंज कसा कि भाजपा उसी को स्मार्ट सिटी कहती है, जहां सड़कों पर सांड घूमते हैं। सांसद मुरली मनोहर जोशी का टिकट काटने पर भी मजाक के लहजे में कहा, भाजपा वाले कूड़ा हटाने की बात करते थे और सांसद को हटा दिया। जिसके दिमाग में गंदगी हो, वह कूड़ा नहीं हटा सकता। 
सपा ही कर सकती सीमा की सुरक्षा
सपा मुखिया अखिलेश यादव ने दावा करते हुए कहा कि सीमा की सुरक्षा सिर्फ समाजवादी पार्टी कर सकती है। वायुसेना के पास आज जो बेहतरीन लड़ाकू विमान हैं, वह नेताजी ने ही खरीदकर दिए थे। उन्होंने कहा कि हमें आपस में लड़ाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खीर खाने पाकिस्तान जाते हैं। बाबा मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को धोखा दिया। 
ठोको नीति पर चल पड़े भाजपा सांसद और विधायक
सपा प्रमुख ने कहा मेट्रो का टेंडर भी नहीं हुआ, उसका शिलान्यास करा दिया। समाजवादी एंबुलेंस, डायल 100 जैसी योजनाओं को बर्बाद करने का आरोप मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर लगाया। बाबा ने लैपटॉप इसलिए नहीं बांटे, क्योंकि चलाना ही नहीं आता, उन्हें 100 नंबर समझ नहीं आया। सदन में ठोको नीति की घोषणा की तो भाजपा के सांसद और विधायक भी इस नीति पर चल पड़े। एक सांसद ने विधायक को जूतों से ठोक दिया। 
कांग्रेस को बहुत घमंड है
मैदान में चौकीदार चोर है का नारा कार्यकर्ताओं ने लगाया तो अखिलेश बोले, इस पर कांग्रेस के लोग तो माफी मांग रहे हैं। हम सुप्रीम कोर्ट का सम्मान करते हैं, लेकिन यह चुनाव चौकीदार की चौकी छीनने का है। सपा सरकार के विकास कार्य गिनाते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि आप लोगों को भाजपा और कांग्रेस से सावधान रहना है। हमने कांग्रेस से गठबंधन किया था लेकिन, उन्होंने हमें धोखा दिया, उन्हें घमंड बहुत है। मैं कहता था कि यह मिले हुए हैं। 
भाजपा को गठबंधन ही रोक सकता
अखिलेश ने कहा कि भाजपा को गठबंधन ही रोक रहा है। भाजपा नोटबंदी तो हम वोटबन्दी कर सकते हैं। याद रखें देश नाजुक स्थिति से गुजर रहा है। भाजपा ने पांच साल में विकास नहीं किया और इतने वर्ष के शासन में कांग्रेस ने भी विकास की सही नींव नहीं रखी। 
टेनरी बंद कर पाकिस्तान पहुंचा दिया चमड़ा कारोबार
गंगा रक्षा का विषय उठाते हुए अखिलेश ने कहा कि गंगा के नाम पर भाजपा ने टेनरियों को बंद किया। वह जानते थे कि यहां की टेनरी बंद होने से पाकिस्तान और बांग्लादेश को कारोबार का लाभ मिलेगा। भाजपा का मकसद ही यही था। 
हमारी टोंटी ढूंढने वाले ही ढूंढेंगे चिलम
अखिलेश यादव ने कहा कि हमने मुख्यमंत्री आवास खाली किया तो उसे गंगाजल से धुलवाया गया। फिर टोंटी ले जाने के आरोप लगाए। जिन अफसरों ने हमारी टोंटी ढूंढ़ी, वही चिलम ढूंढेंगे।

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप