जमशेदपुर, जासं। जमशेदपुर शहर से सटी बस्ती इलाके गदड़ा में  झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन की सभा थी। उनके साथ कांग्रेस के फुरकान अंसारी भी थे। यहां बिजली के तार के कारण हेलीकॉप्टर की लैंडिंग बड़ी मुश्किल से हुई, लेकिन इस क्रम में सभा स्थल पर भगदड़ मच गई।

हालांकि कुछ ही देर में स्थिति सामान्य हो गई। उसके बाद हेमंत सोरेन ने सिर्फ सात मिनट में जुगसलाई विधानसभा क्षेत्र से महागठबंधन की ओर से झामुमो प्रत्याशी मंगल कालिंदी को वोट देने की अपील की। इस क्रम में निशाने पर मुख्यमंत्री ही रहे। दरअसल, लैंडिंग के समय हेलीकॉप्टर के पंखे से मंच के पास अंधड़ जैसे हालात बन गए। टेंट का कपड़ा फटकर उडऩे लगा। टेंट गिरने की आशंका के कारण लोग इधर-उधर भागने लगे। उस समय शाम के 4.17 बज रहे थे। संक्षिप्त भाषण के बाद अंधेरा होने के कारण हेलीकॉप्टर के टेकऑफ में दिक्कत की आशंका के कारण सभा खत्म कर रवाना हो गए।   

पेट पालने आने वाले बन गए मालिक : हेमंत

 झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने किसी का नाम लिए बिना कहा कि जो यहां पेट पालने के लिए आया था, वह आज मालिक बन बैठा है। मालिक बनने के बाद स्थानीय लोगों पर अत्याचार करना आरंभ कर दिया। वे गदड़ा कॉलेज मैदान में महागठबंधन के उम्मीदवार मंगल कालिंदी के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उनके साथ कांग्रेस के नेता फुरकान अंसारी भी थे। उन्होंने हाथ जोड़कर जनता का अभिवादन किया। 

भाजपा लोगों को भरमा रही

अपनी बात आगे बढ़ाते हुए हेमंत ने कहा कि हार से हताश भाजपा लोगों को दिगभ्रमित कर रही है। पांच वर्षों में रघुवर सरकार ने गरीब, आदिवासी, दलित पिछड़ी के साथ शिक्षित बेरोजगार, किसान आदि को रूलाने का काम किया है। रघुवर सरकार के अत्याचार से लोग भूखे मरने को विवश है। हेमंत ने कहा कि टाटा जैसे समूह की जड़े हिल गई है। राज्य में कई कल-कारखाने बंद हो चुके हैं तो कई बंद होने के कगार पर हैं। छह माह के भीतर लाखों लोग बेरोजगार हो गए। रघुवर सरकार न तो रोजगार दे पाई और न ही रोटी। ऐसी सरकार को इस राज्य में रहने का कोई अधिकार नही है। 

तो दिखा देते बाहर का रास्‍ता

राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जमशेदपुर के अस्पताल में आक्सीजन के अभाव में कई लोगों की जान चली गई और सरकार ने आंखे बंद कर ली। पारा शिक्षक, आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका से लेकर पुलिस को वेतन देने के लिए सरकार के पास पैसे नहीं हंै। इस तानाशाह सरकार के खिलाफ बोलने वालों को या तो जेल में बंद कर दिया जाता है या पुलिस की गोली का शिकार होना पड़ता है। सरयू राय का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता अगर भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाते है उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया जाता है।

भगवान बिरसा के रूप में दो ग्रामीण रहे आकर्षण

चुनावी सभा में शामिल होने गदडा के कृष्णा देवगम व धनंजय हेम्ब्रम भगवान बिरसा का रूप धारण कर पहुंचे। सभा में हाथों में मशाल और तीर धनुष लिए पहुंचे। दोनों आकर्षण का केंद्र बने रहे। लोगों ने दोनों के साथ खूब सेल्फी ली।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस