जमशेदपुर, जासं।  Jharkhand Assembly Election 2019 झारखंड के निवर्तमान मुख्यमंत्री रघुवर दास से ज्यादा धनवान जमशेदपुर पूर्वी से ही उनके खिलाफ चुनाव लड़ रहे झारखंड विकास मोर्चा के उम्मीदवार अभय सिंह हैंं। जिनके पास पूरे सभी उम्मीदवारों में सबसे ज्यादा नौ करोड़ 19 लाख रुपये की चल व अचल संपत्ति है। जबकि रघुवर जो पिछले पांच बार से विधायक बने। इसमें वे एक बार वित्त मंत्री, उप मुख्यमंत्री व मुख्यमंत्री बने। उनके पास वर्तमान में 85 लाख रुपये है जबकि अभय सिंह नौ करोड़ 19 लाख रुपये की संपत्ति के मालिक हैं।

वहीं, दो बार से विधायक रहे सरयू राय के पास चार करोड़ 34 लाख रुपये के स्वामी है। नामांकन के बाद जिला निर्वाचन आयोग की ओर सोमवार को सभी उम्मीदवारों के शपथपत्र जारी किए हैं। उम्मीदवारों द्वारा दिए गए शपथ पत्र में कई उम्मीदवारों की राशि में पिछले पांच वर्षो में अच्छी बढ़ोतरी दिखी, वहीं दो ऐसे भी उम्मीदवार हैं जिनकी कुल संपत्ति पिछले पांच वर्षो में घट गया। पेश है कुछ उम्मीदवारों की संपत्ति का ब्यौरा:

विधानसभा - जमशेदपुर पूर्वी

नाम - रघुवर दास

पार्टी - भारतीय जनता पार्टी

शिक्षा - स्नातक

संपत्ति - कुल 85 लाख 11 हजार 982.62 रुपये

अचल - कुछ नहीं (2014 में दायर शपथ पत्र में 20 लाख रुपये का मकान दर्ज है)

अपराधिक मामले - नहीं है

पिछले पांच साल में संपत्ति में बढोतरी - 12 लाख 36 हजार 916 रुपये।

विधानसभा : पूर्वी जमशेदपुर

नाम : सरयू राय

शिक्षा : पोस्ट ग्रेजुएट (भौतकी)

चल संपति : एक करोड़ 28 लाख 13 हजार 549 रुपए।

अंचल संपति : दो करोड़ 61 लाख सात हजार रुपए। विरासत : 45 लाख 76 हजार 425 रुपए।

कुल संपति : चार करोड़ 34 लाख 96 हजार 974 रुपए।

अपराधिक मामले : नहीं है

2014 के बाद संपति में हुई बढ़ोतरी : एक करोड़ 21 लाख 84 हजार 426 रुपए।

2014 की संपति : तीन करोड़ 13 लाख 12 हजार 548 रुपए।

विधानसभा - 48 जमशेदपुर पूर्वी

नाम- अभय सिंह

पार्टी- झारखंड विकास मोर्चा

शिक्षा- स्नातक

चल संपत्ति - 37 लाख 92 हजार 84

अचल संपत्ति - 8 करोड़ 81 लाख 70 हजार 63

कुल संपत्ति (2019) - 9 करोड़ 19 लाख 62 हजार 147

कुल संपत्ति (2014)- 9 करोड़ 5 लाख 50 हजार

पिछले पांच साल में संपत्ति में बढ़ोतरी- 14 लाख 12 हजार 147

आपराधिक मामले- 2

विधानसभा : पोटका

नाम : मंगल कालिंदी

पार्टी : झामुमो

शिक्षा : आठवीं पास

संपत्ति : दो लाख 49 हजार 870 रुपये।

चल : नहीं

अचल : नहीं

आपराधिक मामले : नहीं

पिछले पांच वर्षो में संपत्ति में बढ़ोतरी : एक लाख सात हजार 370 रुपये।

वर्ष 2014 में कुल संपत्ति एक लाख 42 हजार 500 रुपये।

विधानसभा : घाटशिला

नाम : रामदास सोरेन

पार्टी : झामुमो

शिक्षा : बीए

चल संपत्ति : 68 लाख 94 हजार 413

अचल संपत्ति : 8 करोड़ 91 लाख 31 हजार 413

कुल संपत्ति (2019) : 9 करोड़ छह लाख 25 हजार 413

कुल संपत्ति (2014) : 6 करोड़ 6 लाख 35 हजार 612 (एक लाख 72 हजार 910 देनदारी)

कुल बढ़ोत्तरी : 2 करोड़ 99 लाख 89 हजार 801.

आपराधिक मामले : 05

विधानसभा : बहरागोड़ा

नाम : कुणाल षड़ंगी

शिक्षा : एमबीए

चल संपत्ति : 58 लाख 77 हजार 178

अचल संपत्ति : 20 लाख

कुल संपत्ति (2019) : 78 लाख 77 हजार 178

कुल संपत्ति (2014) : 31 लाख 44 हजार 800

कुल बढ़ोत्तरी : 47 लाख 32 हजार 318

आपराधिक मामले : शून्य

विधानसभा : बहरागोड़ा

नाम : समीर महंती

पार्टी-झामुमो

शिक्षा : बीए

चल संपत्ति : 3 लाख 37 हजार 700

अचल संपत्ति : 4 लाख 15 हजार

कुल संपत्ति (2019) : 7 लाख 52 हजार 700 (4 लाख 25 हजार रुपये की देनदारी)

कुल संपत्ति (2014) : 15 लाख 78 हजार 500

आय में कमी : 8 लाख 25 हजार 700

आपराधिक मामले : तीन

विधानसभा : पोटका

नाम : संजीव सरदार

शिक्षा : इंटरमीडियट।

चल संपति : पांच लाख 56 हजार 136 रुपए।

अंचल संपति : दस लाख छह हजार 760 रुपए।

कुल संपति : 15 लाख 70 हजार 896 रुपए।

अपराधिक मामले : तीन।

2014 के बाद संपति घटी : आठ लाख 93 हजार 656 रुपए।

2014 की संपति : 24 लाख 64 हजार 555 रुपए (देनदारी : चार लाख 50 हजार 129 रुपए)।

विधानसभा : पोटका

नाम : बुलू रानी सिंह

पार्टी का नाम : आजसू

शिक्षा : मैट्रिक

चल संपत्ति : 37 लाख 17 हजार

अचल संपत्ति : 12 लाख 68 हजार

कुल संपत्ति (2019) : 59 लाख 85 हजार 178

आपराधिक मामले : शून्य

विधानसभा - 46 पोटका

नाम- मेनका सरदार

पार्टी- भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)

शिक्षा- स्नातक

चल संपत्ति - 1 करोड़ 49 लाख 73 हजार 513

अचल संपत्ति - 58 लाख 40 हजार

कुल संपत्ति (2019) - 2 करोड़ 8 लाख 13 हजार 513

कुल संपत्ति (2014)- 1 करोड़ 3 लाख 30 हजार 407

पिछले पांच साल में संपत्ति में बढ़ोतरी- 1 करोड़ 4 लाख 83 हजार 106

आपराधिक मामले- शून्य।

 

Posted By: Rakesh Ranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप