नई दिल्ली, एएनआइ। Delhi Assembly Election 2020, दिल्ली में इस साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। इन चुनावों की तारीखों का ऐलान होना फिलहाल बाकी है। चुनाव आयोग इस बार दिल्ली में चुनावों के लिए खास इंतजाम करने की तैयारी कर रहा है। विधानसभा चुनाव की वोटिंग के दौरान मतदाताओं की पहचान क्यूआर कोड के जरिए हो सकती है।

समाचार एजेंसी एएनआई के साथ बात करते हुए एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए क्यूआर कोड पर काम किया जा रहा है।यह नई तकनीकी नए मतदाताओं की मतदाता पर्ची के क्यूआर कोड के माध्यम से वोटिंग प्रक्रिया को तेज करेगी। इस तरीके से मतदाताओं की तेजी से पहचान करने में मदद मिलेगी।

इससे पहले नवंबर में एक प्रेस विज्ञप्ति में दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) ने कहा था कि दिल्ली देश का पहला शहर होगा जहां हर मतदान केंद्र में बूथ ऐप का उपयोग किया जाएगा।बता दें, दिल्ली में इस साल जल्द चुनाव होने वाले हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार का पांच साल का कार्यकाल फरवरी, 2020 में खत्म होने जा रहा है। इसके लिए वहां चुनाव होंगे।

दिल्ली में किसके बीच है मुकाबला ?

दिल्ली में विधानसभा की 70 सीटें हैं।दिल्ली में मुख्य मुकाबला तीन पार्टियों के बीच है। इन तीन प्रमुख पार्टियों में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी(Aam Aadmi Party), भारतीय जनता पार्टी(Bhartiya Janta Party) और कांग्रेस(Congress) है। पिछले विधानसभा चुनावों के नतीजों की बात की जाए तो अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी(Aam Aadmi Party) को कुल 70 सीटों में से 67 सीटें मिली थीं। भारतीय जनता पार्टी(Bhartiya Janta Party)को 3 सीटों पर जीत नसीब हुई थी, वहीं कांग्रेस(Congress) अपना खाता भी नहीं खोल पाई थी।

इससे पहले नवंबर में एक प्रेस विज्ञप्ति में दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) ने कहा था कि दिल्ली देश का पहला शहर होगा जहां हर मतदान केंद्र में बूथ ऐप का उपयोग किया जाएगा।

Posted By: Shashank Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस