Move to Jagran APP

Patna BJP leader Murder news: पटना में भाजपा नेता राजेश कुमार झा 'राजू बाबा' की गोली मारकर हत्या

Patna BJP leader Murder news बिहार में आदर्श आचार संहिता लागू है। मगर अपराधी बेखौफ है। अपराधियों ने पटना में सुबह-सुबह ही घर के पास टहल रहे भाजपा नेता की गोली मारकर हत्‍या कर दी है। पुलिस जांच में जुटी है।

By Sumita JaiswalEdited By: Published: Thu, 01 Oct 2020 10:36 AM (IST)Updated: Thu, 01 Oct 2020 11:53 AM (IST)
मारे गए भाजपा नेता राजेश कुमार की फाइल फोटो।

पटना, जेएनएन। Patna BJP leader Murder news:  गुरुवार की सुबह बाइक सवार अपराधियों ने राजधानी के बेउर थाना क्षेत्र के तेजप्रताप नगर के सामने मुख्य बाइपास सड़क पर सीताराम मैरेज हॉल के नजदीक भाजपा नेता व प्रॉपर्टी डीलर राजेश कुमार झा की गोली मारकर हत्या कर दी। अपराधियों ने राजेश झा उर्फ राजू बाबा की कनपटी में सटाकर गोली मार दी। गोली लगते ही वे गिर पड़े। वारदात को अंजाम देकर अपराधी रिवॉल्वर लहराते हुए चले गए। गोली चलने की आवाज सुनते ही मॉर्निंग वाक कर रहे लोगों में भगदड़ मच गई। बेउर पुलिस मौके पर पहुंच गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए पीएमसीएच भेज दिया। राजेश के भाई सीतामढ़ी निवासी जितेंद्र कुमार झा के बयान पर बेउर थाने में अज्ञात अपराधियों के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। 

राजेश के साले चंदन व उसके दोस्त को लिया हिरासत में

बेउर पुलिस शक के आधार पर राजेश के साले चंदन व उसके दोस्त को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि राजू बाबा मॉर्निंग वॉक करते थे। आज वॉक के बाद मंदिर जा रहे थे कि सुबह छह बजे के आसपास बाइक पर सवार दो अपराधी पहुंचे और उन्हें घेरकर गोली मार दी। 

सीतामढ़ी के खरगा बसंत के थे रहने वाले

थानाध्यक्ष फुलदेव चौधरी ने बताया कि राजू मूलरूप से सीतामढ़ी के खरगा बसंत के रहने वाले थे। पटना में तेज प्रताप नगर में रहते थे। उनके पिता बेउर जेल के सुरक्षाकर्मी थे। कुछ दिन पहले भाजपा में शामिल मंडल अध्यक्ष राजू ने 2006 में तलाकशुदा महिला से शादी की थी। उनका साले चंदन से जमीन खरीद-बिक्री की लेनदेन में विवाद चल रहा था। चंदन समेत तीन को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। 

वारदात का कारण पारिवारिक विवाद ही

बेउर पुलिस ने पास के ही सीताराम मैरेज हॉल में लगे सीसी कैमरे की फुटेज निकाल ली है। मामले मेंं वैज्ञानिक अनुसंधान के लिए डायल 100 की पुलिस टीम भी मौके पर पहुंची। देर रात तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस अधिकारियों की मानें तो वारदात का कारण पारिवारिक विवाद ही है। जमीन के खरीद-बिक्री के मामले में भी कुछ लोगों से विवाद चल रहा था।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.