पटना, जेएनएन: बिहार कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम पर इनकम टैक्स का छापा पड़ा है। सदाकत आश्रम परिसर में खड़ी एक कार से साढ़े आठ लाख रुपये मिलने के बाद इनकम टैक्स ने यह कार्रवाई की है। हालांकि छापामारी में कितने रुपये मिले, किसकी गाड़ी से मिले और किसके रुपये थे, इस बारे में इनकम टैक्स का की ओर से कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है। 

सदाकत आश्रम में इनकम टैक्स की कार्रवाई गुरुवार की शाम हुई। फ्लाइंग स्कवॉड को गुप्त सूचना मिली थी कि सदाकत आश्रम में खड़ी एक गाड़ी में लाखों रुपये हैं। जिसके बाद टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए रुपये अपने कब्जे में ले लिए और इसकी जानकारी इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को भी दे दी। सदाकत आश्रम पहुंची इनकम टैक्स टीम ने यहां मौजूद पार्टी नेताओं से इस संबंध में पूछताछ भी की। बताया जाता है कि जिस वक्त टीम यहां पहुंची सदाकत आश्रम कार्यालय में कांग्रेस महासचिव रणदीप सुरजेवाला, प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल समेत दूसरे कई नेता मौजूद थे। 

सूत्रों की माने तो इनकम टैक्स की एक टीम अंदर पार्टी नेताओं से पूछताछ कर रही थी तो दूसरी टीम गेट के बाहर पहरे पर थी। जांच शुरू करने के पूर्व इनकम टैक्स के अधिकारियों ने सदाकत आश्रम के गेट पर ताला जड़ दिया था। छापेमारी के संबंध में फिलहाल इनकम टैक्स के अधिकारी बात करने से इंकार कर रहे हैं। 

इधर कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि चुनाव में अपनी पराजय देख विरोधी कांग्रेस के खिलाफ साजिश में जुट गए हैं। उन्होंने कहा कि जिस गाड़ी से पैसे मिले हैं उससे कांग्रेस का कोई संबंध नहीं। सदाकत आश्रम में सुबह से शाम तक के बीच सैकड़ों लोग आते-जाते हैं। कार्यालय में आने के लिए किसी की अनुमति की जरूरत नहीं। उन्होंने कहा कि शुक्रवार को राहुल गांधी की बिहार में रैली होने वाली है। इसके पहले इनकम टैक्स की टीम यहां आती है नोटिस चिपकाती है, लेकिन भाजपा प्रत्याशी के भाई की गाड़ी से 22 किलो सोना मिलता है तो ना तो भाजपा के नेता से इनकम टैक्स पूछताछ करता है ना ही उनके कार्यालय में नोटिस चिपकाता है। शुक्रवार को राहुल गांधी की रैली के पहले पार्टी का ध्यान भटकाने के लिए यह कार्रवाई की जा रही है। गोहिल ने कहा कि यह बिहार की धरती है साजिश करके कोई हमें जितना परेशान करेगा हम उतने ही मजबूत होंगे। 

इनकम टैक्स के छापे की मेरे पास ज्यादा जानकारी नहीं है। मैं सिर्फ इतना बता सकता हूं कि इनकम टैक्स ने पार्टी को 26 अक्टूबर तक अपना पक्ष रखने का समय दिया है। पार्टी ने अपने वकील से बात की है। जो मियाद तय की गई है उसमें इनकम टैक्स को जवाब दे दिया जाएगा। 

प्रेमचंद मिश्रा, विधान पार्षद व समन्वय समिति के सदस्य 

Edited By: Bihar News Network

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट