जेएनएन, पटना : राजधानी की हृदयस्थली है बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र। 871 एकड़ में बसने वाले पटना स्मार्ट सिटी का अधिकतर इलाका बांकीपुर क्षेत्र का हिस्सा है। इस बार चुनाव में इस सीट से 22 प्रत्याशी भाग्य आजमा रहे हैं। वर्ष 2015 में इस सीट पर भाजपा के नितिन नवीन ने कांग्रेस के कुमार आशीष को 39767 वोट से हराया था। पिछले विस चुनाव में 40.25 फीसद वोट पड़े थे।

 निस्संदेह पटना में स्मार्ट सिटी जिस दिन पूरी तरह मूर्त रूप ले लेगी, बांकीपुर की तकदीर ही चमक उठेगी। इस क्षेत्र के मतदाताओं ने बड़ी उम्मीद पाल रखी है। चकाचक चौड़ी सड़कों के किनारे हरे-भरे पेड़ पौधों के बीच प्रदूषण मुक्त वातावरण और बिस्कोमान के पास न्यूयार्क के टाइम स्क्वायर की तर्ज पर मनोरंजन स्थल का सपना स्मार्ट सिटी ने दिखाया है। बांकीपुर विधानसभा क्षेत्र की जनता इन सपनों के सबसे करीब है। ये सपने देख रहे बांकीपुर के मतदाता फिलवक्त हर दिन की कई समस्याओं से दो-चार हो रहे हैं। यह सही है कि बांकीपुर क्षेत्र की कई समस्याएं अब हवा हो गई हैं, पर यह भी हकीकत है कि कई समस्याओं को हवा बनाकर मुद्दे बना दिए गए हैं।

इस विस क्षेत्र के मुद्दे

मुद्दा  पहला

मंदिरी नाला का अटका पड़ा निर्माण इस क्षेत्र के मतदाताओं के लिए बड़ा मुद्दा बनने लगा है। स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत इस नाले का निर्माण होना था। नाले के ऊपर चौड़ी सड़क बनाकर दोनों और पौधरोपण कर हरियाली क्षेत्र के रूप में इसे विकसित किया जाना था। हाल है कि चौड़े से खुले नाले में हर दिन लोग और जानवर गिरते रहते हैं। जानलेवा बने इस नाले के आसपास रहने वाले लोग दुर्गंध से भी परेशान रहते हैं।

मुद्दा  दूसरा

बकरी बाजार के आसपास रहने वाले या उधर से गुजरने वालों के लिए कचरे की दुर्गंध सबसे बड़ी आफत है। जीपीओ गोलंबर के पास नगर निगम की गाडिय़ां हर दिन शहर का कचरा डंप करती हैं। सडऩ के बाद कचरे की दुर्गंध से स्थानीय दुकानदार, कार्यालयों में काम करने वाले कर्मी, राहगीर सहित अन्य लोग परेशान रहते हैं।

मुद्दा  तीसरा

बांकीपुर के लोगों के लिए जाम का झाम आम समस्या है। हालांकि, इस क्षेत्र में पिछले कुछ वर्षों में बड़ी संख्या में पुल-पुलिया बनने से जाम की समस्या में कमी आई है। इसके बावजूद अशोक राजपथ सहित अन्य प्रमुख सड़कों पर जाम आम समस्या है। सड़कों और फुटपाथों पर अतिक्रमण और यातायात प्रबंधन की कमी इसकी मूल वजह है।

मुद्दा चौथा

बांकीपुर विधानसभा का कई इलाका पिछले वर्ष के जलजमाव की त्रासदी का गवाह रहा है। इस साल वो स्थिति तो नहीं रही, पर कई इलाकों से जलनिकासी में एक से दो दिन का समय लग गया। कदमकुआं, लंगरटोली सहित कई इलाकों के लिए अब भी जलनिकासी समस्या है।

मुद्दा पांचवां

बांकीपुर विधानसभा में बड़ी संख्या में बड़े-बड़े शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, शो-रूम, आभूषण दुकान और व्यापारिक प्रतिष्ठान हैं। व्यापारी वर्ग के लिए बेहतर विधि-व्यवस्था सबसे बड़ा मुद्दा बना हुआ है। व्यापारी और दुकानदार अपने साथ-साथ दुकान-प्रतिष्ठान की सुरक्षा चाहते हैं।

एक नजर क्षेत्र पर

कुल मतदाता : 391100

पुरुष मतदाता : 208299

महिला मतदाता : 182772

थर्ड जेंडर : 29

मतदान केंद्र : 589

22 उम्मीदवार बांकीपुर से मैदान में

नितिन नवीन : भाजपा

लव सिन्हा : कांग्रेस

प्रभाष चंद्र शर्मा : निर्दलीय

अनंग भूषण वर्मा : निर्दलीय

तेजस्वनी ज्योति : भा. लोक चेतना पा.

उषा देवी श्रीवास्तव : निर्दलीय

पुष्पम प्रिया : निर्दलीय

पवन कुमार झा : निर्दलीय

मुकुंद कुमार : निर्दलीय

संजीव कुमार : भारतीय पार्टी लो.

विकास कुमार राय : भा. मोमिन फ्रंट

इंद्र कुमार सिंह चंदापुरी : जाप लो.

मनीष वरियार : निर्दलीय

दुखन पासवान : रा. जनसंभावना पा.

नितेश कुमार : जद राष्ट्रवादी

सौरभ सिंह : भा. सबलोग पार्टी

अरविंद कुमार सिंह : पब्लिक मिशन पा.

पियूश कांत सिंह : बहुजन न्याय दल

जय लक्ष्मी : निर्दलीय

सुशील कुमार सिंह : राकांपा

सुबोध कुमार : शोषित समाज दल

कौशल किशोर पांडे : निर्दलीय

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस