जागरण संवाददाता, पूर्वी दिल्ली : कोरोना से जान गंवाने वाले लोक नायक अस्पताल के डॉक्टर असीम गुप्ता के स्वजनों को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविद केजरीवाल ने एक करोड़ रुपये का चेक सौंपा। शुक्रवार दोपहर को मुख्यमंत्री सांत्वना देने के लिए दिल्ली गार्डन स्थित दिवंगत डॉक्टर के घर पहुंचे। उनके साथ दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल मौजूद रहे। दोनों नेताओं ने घर पहुंचकर डॉ. की फोटो पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। स्वजनों से उनका हाल जाना और स्पष्ट कहा कि सरकार उनका पूरा ख्याल रखेगी।

दिवंगत की पत्नी डॉ. निरुपमा उत्तर-प्रदेश के एक सरकारी अस्पताल में डॉक्टर हैं। डॉ. असीम के कोरोना संक्रमित होने पर उनकी पत्नी भी संक्रमित हो गई थीं, वह कोरोना को मात दे चुकी हैं। जबकि कुछ ही दिन पहले कोरोना से जंग लड़ते हुए डॉ. असीम की मौत हो गई थी। बहुत ही कम समय में सम्मान राशि मिलने पर दिवंगत के स्वजनों ने सरकार का शुक्रिया किया। इसके साथ ही डॉ. निरुपमा ने मुख्यमंत्री से इच्छा जताई की वह दिल्ली के अस्पताल में नौकरी करना चाहती हैं, मुख्यमंत्री ने उनसे कहा कि वह सरकार को एक पत्र लिखकर दें। पूरी कोशिश की जाएगी दिल्ली के अस्पताल में ही उनकी नौकरी लगवा दी जाए। मुख्यमंत्री ने स्वजनों से कहा कि डॉ असीम कोरोना के मरीजों का इलाज करते-करते शहीद हो गए, इस कोरोना काल में उनकी कमी बहुत खल रही है। डॉ. असीम ने हमेशा सबसे आगे रहकर कोरोना मरीजों का इलाज किया। उन्हें कॉलोनी के लोगों ने जानकारी दी कि कॉलोनी में किसी व्यक्ति को कुछ हो जाता था सबसे पहले डॉ. असीम ही पहुंचते थे। उन्होंने कहा कि कोरोनाकाल में सबसे अहम भूमिका डॉक्टर निभा रहे हैं, उनकी देखभाल करना सरकार का प्रथम कर्तव्य है। दिवंगत के स्वजन खुद को अकेला न समझे, सरकार हमेशा उनके साथ खड़ी है।