नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। मेट्रो में यदि कोई अनपढ़ और भोला बनकर आपसे बात करने पहुंचे तो उससे दूरी बनाकर रखना ही आपके लिए बेहतर होगा। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपके बैंक से रुपये साफ होने की पूरी संभावना रहेगी। कश्मीरी गेट मेट्रो थाना पुलिस ने दो ऐसे बदमाशों को गिरफ्तार किया है जो मेट्रो यात्रियों को पैसे का बंडल दिखा कर उनके बैंक खाते से पैसे साफ कर देते थे। इन बदमाशों ने तीन लोगों को अपना शिकार बनाया है।

एसएचओ रामसहाय मीणा ने बताया कि बवाना, जेजे कालोनी निवासी राहुल और शब्बीर को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि दोनों बदमाशों में से एक अनपढ़ और भोलाभाला बनकर कहता था कि उसने अपने मालिक के यहां से काफी पैसे चोरी किए हैं, और इसे बैंक में जमा करना है। हालांकि उन्हें यह नहीं पता है कि बैंक में पैसे कैसे जमा किए जाते हैं। यात्री को विश्वास में लेने के लिए आरोपित उसे पांच सौ रुपये का बंडल भी दिखाते थे। उस बंडल में एक दो ही पांच सौ के नोट होते थे। बाकी कागज के टुकड़े होते थे।

इस बीच दूसरा युवक यात्री को पैसे बैंक में जमा कराने के बहाने आपस में इन पैसों को बांटने का झांसा देता था। जब यात्री तैयार हो जाता था तो मेट्रो से निकलकर एटीएम बूथ पर आरोपित यात्री को विश्वास में लेकर उसका एटीएम कार्ड, पिन नंबर और मोबाइल फोन हासिल कर फरार हो जाते थे। कुछ देर बाद पीडि़त के खाते से आरोपित पैसे निकाल लेते थे।

केस-1

तीन मार्च को त्रिलोकपुरी से गाजियाबाद की तरफ जाने वाली मेट्रो में यात्रा कर रहे गौरव त्यागी को इन दोनों बदमाशों ने पैसों का बंडल दिखाकर पहले झांसे में लिया और फिर धोखे से एटीएम व उसका पिन प्राप्त कर 59 हजार रुपये निकाल लिए।

केस-2

12 मार्च को राजस्थान के रहने वाले ललित कुमार के साथ चांदनी चौक मेट्रो स्टेशन पर पांच सौ के नोट का बंडल दिखाकर मोबाइल, एटीएम कार्ड व कुछ आभूषण इन दोनों बदमाशों ने ले लिया था।

ये भी पढ़ेंः Delhi Metro Services: दिल्ली में लॉकडाउन के दौरान मेट्रो के समय में बदलाव, यहां जानें नई टाइमिंग

केस-3

30 मार्च को बहादुरगढ़ से सुभाष नगर की तरफ मेट्रो ट्रेन से यात्रा कर रहे अमित कुमार के साथ भी इन दोनों ने दो लाख रुपये की धोखाधड़ी की थी। आरोपितों ने उनका मोबाइल फोन भी ले लिया था।

इसे भी पढ़ेंः दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, कोरोना के खिलाफ लड़ाई में मांगा सहयोग