डहीना/रेवाड़ी। जज्बा और उत्साह हो तो उम्र भी प्रतिभाओं के आगे बाधा नहीं बन सकती। इसका प्रमाण हैं गांव डहीना निवासी नवजीत और लिसान निवासी लक्ष्मण सिंह यादव। दोनों बुजुर्ग 60 साल की उम्र में भी खेलों में उपलब्धियां हासिल करते हुए देश और प्रदेश में अपनी प्रतिभा का जलवा बिखेर चुके हैं। अब दोनों बुजुर्ग 2 से 6 दिसंबर तक मलेशिया में होने वाली एशिया मास्टर्स एथलेटिक प्रतियोगिता में प्रतिभा का जलवा बिखेरेंगे।

दोनों रवाना हो चुके हैं मलेशिया

मास्टर एथलेटिक्स फैडरेशन ऑफ इंडिया की ओर से खेलते हुए नवजीत 800 मीटर, 1500 मीटर दौड़ और 5000 मीटर पैदल चाल में हिस्सा लेंगे। वहीं लिसान निवासी लक्ष्मण सिंह यादव 10 हजार मीटर और 5 हजार मीटर पैदल चाल में भारत की ओर से खेलेंगे। इसके लिए वे शुक्रवार शाम को रवाना हो चुके हैं। उन्हें पूर्व के चैंपियन रहे मगन सिंह चौहान, चांद सिंह, रामदत्त व देशराज चौहान के साथ गांव के गणमान्य लोगों ने अपनी शुभकामनाएं दीं। बाबा जिंदा यूथ क्लब डहीना के पदाधिकारियों और खेल प्रेमियों ने देश का मान बढ़ाकर आने का आह्वान किया।

नवजीत के नाम हैं कईं उपलब्धियां

इसी वर्ष 20 जनवरी को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में हुई वेटरन्स एथलेटिक एसोसिएशन की ओर से आयोजित 800 व 1500 मीटर दौड़ में प्रथम स्थान प्राप्त किया। पिछले माह 10 नवंबर को संपन्न हुई नेशनल मास्टर्स एथलेटिक्स प्रतियोगिता की 800 व 1500 मीटर दौड़ में विजेता रहने पर एशियाई खेलों के लिए चयन हुआ।

लक्ष्मण सिंह के नाम भी हैं कई उपलब्धियां

गांव लिसान निवासी लक्ष्मण सिंह यादव 40 साल से अध्यापन कार्य से जुड़े हैं। 24 नवंबर को अलवर में राजस्थान मास्टर्स एथलेटिक चैंपियनशिप में 400 मीटर दौड़ में 55 वर्ष या इससे अधिक आयु वर्ग तथा 500 और 800 मीटर दौड़ में प्रथम स्थान प्राप्त किया।

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस