नई दिल्ली [वी.के.शुक्ला]। प्रदूषण रोकने के लिए बनाए गए विंटर एक्शन प्लान को लागू करने में लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) जुट गया है ।पीडब्ल्यूडी अपने अधिकार क्षेत्र वाले इलाके में ऊंची इमारतों का सर्वे किया जा रहा है।इन इमारतों पर स्माग गन लगाई जानी हैं जो आसपास 100 मीटर तक पानी का छिड़काव करेंगी । सड़कों पर पानी का छिड़काव करने के लिए पानी के टैंकर (वाटर स्प्रिंकलर्स) लगाने की तैयारी चल रही है।

कुछ स्माग गन और टैंकर लेने के लिए टेंडर भी निकाले गए हैं।अभी फिलहाल 158 स्माग गन और 142 वाटर स्प्रिंकलर्स लगाए जा रहे हैं।उपराज्यपाल वी के सक्सेना ने इस बारे में कुछ माह पहले आदेश दिए थे। प्रदूषण रोकने के लिए इस बार पीडब्ल्यूडी अतिरिक्त व्यवस्थाएं जुटाकर इस क्षेत्र में अपना काम कार्यबल बढ़ाने जा रहा है।धूल से होने वाले प्रदूषण को रोकने की दृष्टि से सभी निर्माण स्थलों पर धूल से बचाव के नियमों का सख्ती से पालन करने के लिए कहा गया है।

विभाग प्रमुख ने अपने निर्देश में साफं कहा है कि नियमों का पालन न करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसी के साथ सड़कों पर पानी के नियमित छिड़काव के लिए इंतजाम किए जा रहक हैं।इसके लिए तैयार किए गए विंटर एक्शन प्लान के तहत काम किया जा रहा है।इसके तहत शहर मेें अगले सप्ताह से सड़कों पर पानी का छिड़काव करने वाले 91 वाटर स्प्रिंकलर्स और 128 स्माग गन अगले सप्ताह से लगाने जा रहा है।विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इसके अलावा 51 वाटर स्प्रिंकलर्स और 30 स्माग गन लगाने के लिए टेंडर प्रक्रिया में हैं।

अधिकारी ने कहा कि इस साल धूल प्रदूषण रोकने के लिए जो तैयारी की जा रही है वह पिछले सालों की अपेक्षा काफी अधिक है।उन्होंने कहा कि समय रहते हुए सुविधाएं उपलब्ध कराने के तैयारी की जा चुकी है।लोक निर्माण विभाग के पास दिल्ली में 1259 किलोमीटर लंबी सड़कें हैं।इन सड़कों पर पानी के नियमित छिड़काव की योजना तैयार की गई है, जिससे धूल न उड़े।

ये भी पढ़ें- Delhi Fire News: गांधी नगर मार्केट में कपड़े की दुकानों में लगी भीषण आग,दमकल की 30 गाड़ियां मौके पर

Edited By: Pradeep Kumar Chauhan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट