नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। lunar and Solar Eclipse : कोरोना प्रकोप के बीच इस साल एक माह के बीच में तीन ग्रहण लगने जा रहे हैं। इनमें एक सूर्य और दो चंद्र ग्रहण शामिल हैं। ये ग्रहण पांच जून से पांच जुलाई के बीच लगेंगे। इनमें जून में दो और जुलाई में एक ग्रहण लगेगा। दिसंबर 2019 के सूर्य ग्रहण के बाद इस साल का पहला सूर्य ग्रहण 21 जून 2020 को लगेगा।

ज्योतिषियों के मुताबिक एक वर्ष में तीन से अधिक ग्रहण घातक माने जाते हैं, जबकि इस साल कुल छह ग्रहण लगेंगे। ज्योतिषाचार्य राजेश चतुर्वेदी का कहना है कि इस साल एक चंद्रग्रहण जनवरी 2020 में लग चुका है। इस साल 2020 में कुल दो सूर्य ग्रहण और चार चंद्र ग्रहण लगने जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस साल का पहला सूर्य ग्रहण 21 जून को लगेगा, वहीं इसके बाद 14 दिसंबर को दूसरा सूर्य ग्रहण लगेगा।

उन्होंने बताया कि पांच जून और पांच जुलाई को चंद्रग्रहण लग रहा है। इसके बाद फिर 30 नवंबर 2020 को चंद्रग्रहण लगेगा। जून में एक चंद्र और एक सूर्य दो ग्रहण लगने के तुरंत बाद ही पांच जुलाई को भी चंद्र ग्रहण लग रहा है। पांच जून को लगने वाला चंद्रग्रहण रात 11 बजकर 16 मिनट से ग्रहण शुरू होगा, जो अगले दिन यानी छह जून की सुबह दो बजकर 32 मिनट तक रहेगा।

उन्होंने बताया कि 12 बजकर 54 मिनट पर पूर्ण चंद्रग्रहण होगा। इस चंद्रग्रहण की कुल अवधि तीन घंटे 15 मिनट की होगी। 21 जून को खंडग्रास सूर्य ग्रहण होगा। यह ग्रहण भारत में दिखाई देगा। यह सूर्य ग्रहण मृगशिरा नक्षत्र और मिथुन राशि में लगेगा।

यह ग्रहण सुबह 10 बजकर 14 मिनट से लेकर एक बजकर 38 मिनट तक रहेगा। ग्रहण का सूतक काल 20 जून की रात 10 बजकर 14 मिनट से शुरू हो जाएगा। इस बीच लोग घर में बैठकर ही भगवान की आराधना करें और घर में ही भजन करें। इससे उन्हें लाभ मिलेगा। जुलाई में लगने वाला ग्रहण देश में दिखाई नहीं देगा।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस