नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। गर्मी बढ़ने के कारण शनिवार को राजधानी दिल्ली के कई इलाकों में तापमान 42 डिग्री से अधिक पहुंच गया। मुंगेशपुर और नजफगढ़ में तापमान सबसे अधिक 42.9 डिग्री, जबकि जाफरपुर में अधिकतम तापमान 42.2 डिग्री सेल्सियस रहा। रविवार को आंशिक बादल छाए रहेंगे। अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है।

मौसम विभाग के अनुसार अगले सप्ताह वर्षा होने की परिस्थितियां बन रही हैं। इस वजह से 27 जून को बादल छाए रह सकते हैं, जबकि 28 जून से वर्षा शुरू होने की संभावना है। शुरुआत में दो दिन कई इलाकों में हल्की वर्षा हो सकती है, लेकिन 30 जून और एक जुलाई के लिए मौसम विभाग ने यलो अलर्ट जारी किया है।

यानी, जून के अंतिम दिन मानसून दस्तक दे सकता है। हालांकि, मौसम विभाग का यह भी कहना है कि यदि 30 को मानसून नहीं पहुंचा तो यह जुलाई के पहले सप्ताह में दस्तक देगा। मौसम विभाग के अनुसार शनिवार को राजधानी में अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस अधिक 40.5 डिग्री सेल्सियस, जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस कम 24.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

11 दिन बाद फिर खराब हुई हवा

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर बढ़ गया है। इस वजह से 11 दिन बाद शनिवार को हवा की गुणवत्ता फिर खराब श्रेणी में पहुंच गई। सफर इंडिया के अनुसार अगले तीन दिन तक हवा की गति मध्यम स्तर की होगी। इस दौरान हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी में निचले स्तर पर या मध्यम श्रेणी में उच्च स्तर पर रहेगी।

14 जून को राजधानी का एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) खराब श्रेणी में 222 था। इसके बाद प्रदूषण के स्तर में सुधार होने से हवा की गुणवत्ता मध्यम श्रेणी में बनी हुई थी। इस दौरान बीच में एक दिन 17 जून को एक्यूआइ 100 से कम होने से हवा की गुणवत्ता संतोषजनक श्रेणी में भी थी। बाकी दिनों में एक्यूआइ 100 से ज्यादा व 200 से कम होने के कारण हवा की गुणवत्ता मध्यम श्रेणी में थी। हालांकि, एक दिन पहले, यानी शुक्रवार को राजधानी का एक्यूआइ 197 था।

दिल्ली-एनसीआर का एक्यूआइ

दिल्ली 230

फरीदाबाद 249

गुरुग्राम 230

गाजियाबाद 267

नोएडा 273

ग्रेटर नोएडा 271

(नोट: सीपीसीबी की रिपोर्ट के अनुसार)

Edited By: Abhishek Tiwari