नई दिल्ली [निहाल सिंह]। रविवार को भारत-बंग्लादेश के बीच होने वाले टी-20 मैच में खिलाड़ियों और दर्शकों को प्रदूषण की वजह से दिक्कत न हो और आस पास वातावरण ठीक रहे इसके लिए दक्षिणी दिल्ली नगर निगम ने विशेष टीमें गठित की है। यह टीम दिल्ली गेट स्थित अरुण जेटली स्टेडियम के आसपास प्रदूषण के कारकों को कम करने का कार्य करेगी। वहीं प्रदूषण फैलाने वालों पर कार्रवाई करेगी। खास बात यह होगी कि 24 घंटे यह टीम स्टेडियम के आस पास के इलाके में तैनात कर दी गई है।

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के आयुक्त ज्ञानेश भारती ने निर्देश जारी किए हैं कि जीरो टालरेंस की नीति के तहत टीमें अपना कार्य करें। साथ ही हर घंटे पर की गई कार्रवाई की रिपोर्ट भी दे। वहीं सेंट्रल जोन के उपायुक्त यह सुनिश्चित करें कि धूल प्रदूषण के खिलाफ स्टेडियम के आस पास उल्लंघनकर्ताओं के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जाएं।

प्रदूषण कम करने को लेकर किए जा रहे विशेष कार्य

आयुक्त ने बताया कि स्टेडियम के आस पास के क्षेत्रों में विशेष सफाई अभियान चलाएगा। इसके तहत अतिरिक्त 35 सफाई कर्मचारियों को लगाया गया है। इसके अलावा 9 अतिरिक्त वाटर टैंकर और 12 वाटर स्प्रिंकलर को स्टेडियम के आसपास के क्षेत्र में पानी के छिड़काव के लिए लगाया गया है।

10 मकैनिकल स्वीपरों को भी इलाके में तैनात किया गया है ताकि सड़कों की सफाई हो सके और धूल प्रदूषण में कमी आए। कचरा जलाने, निर्माण स्थलों से धूल प्रदूषण, निर्माण और विध्वंस कचरे, सड़क पर धूल और उद्योगों से वायु प्रदूषण के खिलाफ कार्रवाई के लिए भी अलग-अलग दल बनाए गए हैं। वही शनिवार को वह खुद स्टेडियम के आस-पास के इलाकों का निरीक्षण करेंगे। बता दें कि भारत-बांग्लादेश के बीच टी 20 सीरीज का पहला मैच अरुण जेटली क्रिकेट स्टेडियम में खेला जाएगा। प्रदूषण की वजह से बांग्लादेश के खिलाड़ी मॉस्क लगाकर प्रैक्टिस किए थे।  

 दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक 

ये भी पढ़ेंः Odd-Even के दौरान सरकारी दफ्तरों के कामकाज के समय में किया गया बदलाव

Air Pollution पर केजरीवाल ने पंजाब-हरियाणा को सुनाई खरी-खरी, जानिए PC की 10 अहम बातें

 

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस