नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क/एएनआइ। Delhi Pollution 2019 Report : दिवाली के बाद से भीषण प्रदूषण से जूझ रहे दिल्ली-एनसीआर की लोगों की फिलहाल राहत मिलती नहीं दिखाई दे रही है। शनिवार शाम से धीमी रफ्तार से चल रही हवाओं ने करोड़ों लोगों की मुसीबत बढ़ा दी है। दरअसल, धीमी रफ्तार से चल रही हवा लेकर प्रदूषण कण वातावरण में काफी नीचे तक आ गए हैं। इससे लोगों ने आंखों में जलन संग सांस लेने की शिकायत की है। वहीं, धूल के कणों के साथ दिल्ली-एनसीआर में गहराए वायु प्रदूषण ने दृष्यता काफी कम कर दी है। कई इलाकों में दृष्यता 700 से 1000 मीटर तक देखी गई।

इससे पहले गैस चैंबर बनी दिल्ली के साथ एनसीआर के लोगों के लिए शनिवार को तब राहत की खबर आई, जब हल्की बूंदाबांदी के बीच हवा ने रफ्तार पकड़ी थी। जहां शनिवार शाम से हल्की हवा का चलना जारी है, वहीं रविवार सुबह भी हवा चल रही है और कई गुरुग्राम, फरीदाबाद समेत एनसीआर के इलाकों में हल्की बूंदाबांदी भी हो रही है। नोएडा में भी हल्की बारिश होने की खबर है। ताजा जानकारी के अनुसार, कई जगहों पर हो रही बारिश फिलहाल अभी बंद है, लेकिन आकाश में बादल छाए हुए हैं। 

बारिश की वजह से श्रद्धालु छठ पूजा में छाता लेकर पूजा-अर्चना करते देखे गए। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली और उससे सटे इलाकों में रविवार सुबह-सुबह हल्की बारिश होने लगी। बारिश की वजह से ठंड में इजाफा हुआ है। 

एएनआइ के मुताबिक, दिल्ली के बवाना में एयर क्वालिटी इंडेक्स 492, आइटीओ में 487 और अशोक विहार में 482 दर्ज किया है। ये स्तर खतरनाक की श्रेणी में आते हैं। 

वायु प्रदूषण का स्तर बेहद खतरनाक 

दिवाली पर दिल्ली-एनसीआर में जमकर पटाखे फोड़ने और हरियाणा-पंजाब में पराली जलाने की घटनाओं ने वायु प्रदूषण का स्तर बेहद खतरनाक कर दिया है। दिल्ली के साथ नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद, गुरुग्राम, सोनीपत में वायु गुणवत्ता स्तर (Air Quality Index) 300 से 500 के आसपास बना हुआ है, जो लोगों के स्वास्थ्य को प्रभावित कर रहा है। लोगों ने आंखों में जलन के साथ अन्य स्वास्थ्य संबंधी शिकायतें की हैं।

वहीं, दिल्ली-एनसीआर में लगातार जहरीली होती जा रही हवा को लेकर सुप्रीम कोर्ट भी गंभीर हो गया है। इस बाबत पर्यावरण प्रदूषण रोकथाम एवं नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) ने 4 नवंबर को वायु प्रदूषण को लेकर एक रिपोर्ट दाखिल करेगा, जिस पर सुप्रीम कोर्ट विचार करेगा।वहीं, अरुण मिश्रा की अगुआई में पड़ोसी राज्यों पंजाब-हरियाणा में जलाई जा रही पराली को लेकर भी सुनवाई करेगा। 

खास बातें

  • प्रदूषण को लेकर हरियाणा सरकार के बचाव में उतरे उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि दिल्ली के सीएम केजरीवाल जो आंकड़े प्रस्तुत कर रहे हैं वे तथ्यों से परे हैं। उन्होंने कहा कि केजरीवाल पहले दिल्ली में जलाए जा रहे कूड़े पर अंकुश लगाएं और दिल्ली से लगते हुए सभी राज्यों की एक बैठक आयोजित करें। इसमें प्रदूषण की समस्या का समाधान सुझाएं। उन्होंने कहा कि केजरीवाल राजनीति से ऊपर उठकर प्रदूषण की समस्या का समाधान करवाएं।
  •  
  • भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के वैज्ञानिक केवी सिंह के मुताबिक, शनिवार शाम से हवा की गति में इजाफा हो सकता है। फिर 6 नवंबर के बाद बारिश भी हो सकती है।  
  • नोएडा शहर की हवा बेहद जहरीली हुई तब प्रशासन एक्शन में आया है। शनिवार को प्रशासन ने सेक्टर 32 स्थित वेब सिटी के प्रोजेक्ट पर चल रहे निर्माण कार्य पर प्रतिबंध लगा दिया है। मौके से 25 लोगों को गिरफ्तार कर 2 आरएमसी प्लांट बन्द करा कर पोपलेन को जब्त कर लिया है।

  • पंजाब के सीएम ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर दिल्ली के प्रदूषण मुद्दे पर लिए केंद्र से हस्तक्षेप की मांग की है। 
  • प्रदूषित शहरों में दिल्ली अव्वल तो पाकिस्तान का लाहौर शहर दूसरे स्थान पर
  • दुनिया के सर्वाधिक 10 प्रदूषित शहरों की सूची में 8 शहर एशिया के हैं। इनमें भारत की राजधानी दिल्ली पहले स्थान पर तो पाकिस्तान का लाहौर शहर दूसरे स्थान पर है। 
  • यह है सूची
  • 1. दिल्ली
  • 2. लाहौर
  • 3. कोलकाता
  • 4. पॉजनैन (पोलैंड)
  • 5. क्राको (पोलैंड)
  • 6. हांगजउ (चीन)
  • 7. काठमांडू (नेपाल)
  • 8. ढाका (बांग्लादेश)
  • 9.बुसान (दक्षिण कोरिया)
  • 10. चॉन्गकिंग (चीन)
  • ये भी पढ़ेंः IND vs BAN T-20: स्टेडियम के आस-पास प्रदूषण कम करने के लिए MCD ने किए खास उपाय
  • Odd-Even के दौरान सरकारी दफ्तरों के कामकाज के समय में किया गया बदलाव
  • दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक 
  • जानें- क्‍या होती है Health Emergency, बचाव के लिए क्‍या करने होंगे आपको उपाय
  •  

 

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप