Move to Jagran APP

Pm Kusum Yojana: मात्रा 10 प्रतिशत खर्च से किसान लगवा सकते हैं Solar Plant, ऐसे करें आवेदन

Pm Kusum Yojana केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों की आय दोगुनी करने के लिए एक और बड़ी योजना की शुरुआत की है। इसके लिए किसानों को महज 10 प्रतिशत खर्च करना होगा। बाकी के पैसे सरकार सब्सिडी के रूप में किसानों को उपलब्ध कराएगी।

By Umesh KumarEdited By: Published: Wed, 24 Aug 2022 03:48 PM (IST)Updated: Wed, 24 Aug 2022 03:48 PM (IST)
पीएम कुसुम योजना 2022 के तहत किसानों को मिलेगा फायदा।

नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। Pm Kusum Yojana केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों की आय दोगुनी करने के लिए एक और बड़ी योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत किसान सोलर प्लांट (Solar Plant) लगवा सकते हैं। इसके लिए किसानों को महज 10 प्रतिशत खर्च करना होगा। इस योजना का नाम KUSUM यानी कृषि ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महाअभियान दिया गया है।

loksabha election banner

देश में आज भी ऐसे किसानों की संख्या अधिक है, जो डीजल इंजन के जरिए खेती-किसानी का काम करते हैं। इससे भारी भरकम खर्चे के साथ किसानों को खेती करनी पड़ती है। कई बार किसानों को कर्ज तक लेना भी पड़ जाता है। ऐसे में किसानों को मजबूत और सशक्त बनाने के लिए केंद्र सरकार ने Pm Kusum Yojana को शुरू किया है। इस योजना से किसान न केवल अपने खेतों में सिंचाई कर सकेंगे, बल्कि बिजली पैदा कर उसे बेचकर कमाई भी कर पाएंगे।

प्लांट लगाने के लिए 10 प्रतिशत ही देना होगा पैसा

यह योजना केंद्र सरकार की है। इसलिए यह हर राज्य में मान्य होगी। कुसुम योजना के तहत किसानों को सोलर पैनल की कुल लागत का 10 फीसदी पैसा किसान को लगाना होगा। 30 फीसदी पैसा केंद्र सरकार द्वारा सब्सिडी के तौर पर दिया जाएगा। साथ ही 30 फीसदी राज्य सरकार सब्सिडी के तौर पर देगी। बाकी के बचे 30 फीसदी किसान बैंक से लोन ले सकते हैं। इसके लिए भी सरकार मदद करेगी। सोलर प्लांट शुरू करने के लिए करीब 20 लाख रुपये का खर्च लगेगा।

जानें किसको मिलेगा लाभ, ऐसे करें आवेदन

पीएम कुसुम योजना का लाभ किसान, किसानों का समूह, किसान उत्पादक संगठन, पंचायत, एएफपीओ, पंचायत, सहकारिता, जल उपयोगकर्ता यूनीट उठा सकते हैं। इस योजना का लाभ पाने के लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से आवेदन कर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन करने के लिए प्रधानमंत्री कुसुम योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा। उसके बाद सभी प्रोसेस को फॉलो करके अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

इसके साथ ही आपको अपने प्रॉपर्टी डिटेल्स, आधार कार्ड, बैंक डिटेल्स की जानकारी भी साझा करनी होगी। सबसे ज्यादा जरूरी बात कि आपकी जमीन किसी बिजली सब स्टेशन से 5 किलोमीटर के दायरे में होनी चाहिए। तभी इस योजना का लाभ मिल सकेगा।

बदले जाएंगे डीजल इंजन, फिर लगेगा सौर ऊर्जा

पीएम कुसुम योजना के पहले चरण में डीजल से चलने वाले पंप सेट को बदला जाएगा। सरकार का अनुमान है कि इससे डीजल की खपत कम होगी। योजना के अगले चरण में सरकार किसानों को उनके खेतों में सोलर पैनल लगाकर सौर ऊर्जा बनाने की मंजूरी देगी। इस योजना के तहत सरकार किसानों को 10,000 मेगावाट एनर्जी वाले सोलर प्लांट मुहैया कराएगी।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.