Move to Jagran APP

मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान में यौगिक सूक्ष्म व्यायाम पर राष्ट्रीय कार्यशाला का शुभारंभ

मो.दे.रा.यो.सं. के निदेशक डॉ. काशीनाथ समगंडी ने बताया कि यौगिक सूक्ष्म व्यायाम सिर्फ कहने के लिए सूक्ष्म हैं लेकिन हमारे जीवन में इनका प्रभाव विशद एवं व्यापक है। योग की महत्ता एवं सार्थकता को देखते हुए निदेशक ने सलाह दी कि हमें भविष्य में योग के एक-एक आसनों पर कार्यशाला का आयोजन करना चाहिए जिससें लोगों को योग के आसनों के बारे में वैज्ञानिक एवं विस्तृत जानकारी मिल सके।

By Jagran News Edited By: Anurag Mishra Wed, 10 Jul 2024 10:22 PM (IST)
बुधवार को यौगिक सूक्ष्म व्यायाम पर एक राष्ट्रीय कार्यशाला का शुभारंभ किया गया।

 मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान (मो.दे.रा.यो.सं.) के क्रिया-भवन में बुधवार को यौगिक सूक्ष्म व्यायाम पर एक राष्ट्रीय कार्यशाला का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन मो.दे.रा.यो.सं. के निदेशक डॉ. काशीनाथ समगंडी सहित सभी मंचासीन पदाधिकारियों ने सामूहिक रुप से किया।

मो.दे.रा.यो.सं. के निदेशक डॉ. काशीनाथ समगंडी ने अपने संबोधन में बताया कि यौगिक सूक्ष्म व्यायाम सिर्फ कहने के लिए सूक्ष्म हैं, लेकिन हमारे जीवन में इनका प्रभाव विशद एवं व्यापक है। योग की महत्ता एवं सार्थकता को देखते हुए निदेशक ने सलाह दी कि हमें भविष्य में योग के एक-एक आसनों पर कार्यशाला का आयोजन करना चाहिए, जिससें लोगों को योग के आसनों के बारे में वैज्ञानिक एवं विस्तृत जानकारी मिल सके।

गौरतलब है कि सुप्रसिद्ध योग विशेषज्ञ श्री बाल मुकुंद सिंह, के नेतृत्व में इस कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है, जो 08 जुलाई से 13 जुलाई, 2024 तक चलेगी।

योग चिकित्सा; डॉ इंदु शर्मा, सहायक आचार्य, योग शिक्षा और श्री राहुल सिंह चौहान, योग प्रशिक्षक ने कार्यक्रम का संचालन किया।