नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली-एनसीआर में सोमवार शाम आई आंधी और बारिश ने जगह-जगह तबाही मचाई। आंधी से पुरानी दिल्ली स्थित ऐतिहासिक जामा मस्जिद को काफी नुकसान पहुंचा। मस्जिद के मुख्य गुंबद का कलश टूट गया और मीनारों में लगी टाइल्स टूटकर गिर गई, जिससे तीन लोग घायल हो गए। वहीं, जगह-जगह कारों पर बिजली के खंभे और पेड़ गिर गए, जिससे कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। जलभराव के कारण कई जगह भीषण जाम लग गया।

वहीं, जामा मस्जिद में फिलहाल नमाज रोक दी गई है। मस्जिद का जो कलश टूट गया, वह पीतल का है। उसे तीन गुंबदों के मध्य वाली गुंबद के ऊपर जड़ा गया था। शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने कहा कि परिसर को देखने के बाद क्षति का सही अंदाजा लगाया जा सकेगा।

उन्होंने कहा, तकरीबन 350 साल प्राचीन यह मस्जिद रखरखाव के अभाव में पहले से ही खराब स्थिति में है। इसकी मरम्मत के लिए उन्होंने कई बार केंद्र और राज्य सरकार के साथ भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण को पत्र लिखा है, लेकिन गंभीरता नहीं दिखाई नहीं जा रही है। आगे इस तरह का आंधी या किसी आपदा में मस्जिद की दीवारें तक गिर सकती हैं।  

वहीं, नोएडा के सेक्टर-63 कोतवाली क्षेत्र के चोटपुर कालोनी स्थित मंदिर की जगह पर भजन-कीर्तन कर रही महिलाओं और बच्चे सहित कुल 10 लोग चार इंच की दीवार गिरने से घायल हो गए। एक बुजुर्ग महिला की हालत गंभीर है, जबकि अन्य घायलों का निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है। घायलों में सात महिलाएं और तीन बच्चे शामिल है। सोमवार शाम पांच बजे के करीब आंधी और वर्षा होने से दीवार गिर गई।

वहीं, सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल लाया गया। कालोनी के खाली पड़े प्लाट जो प्रस्तावित मंदिर की जगह है,वहीं यह पूरा हादसा हुआ। किसी के हाथ तो किसी के घुटने में चोट आई। एक बुजुर्ग महिला के सिर पर भी ईंट गिर गई।

Edited By: Jp Yadav