नई दिल्‍ली, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बयानों पर दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल वही भाषा बोल रहे हैं, जो पाकिस्तान इस्तेमाल कर रहा है। दिल्ली की जनता इसका करारा जवाब देगी।

मनोज तिवारी ने कहा कि प्रधानमंत्री को शहरी नक्सली केजरीवाल से सीख लेने की जरूरत नहीं है। पुलवामा का बदला अत्यंत विवेकशीलता और अदम्य साहस के साथ लेने की क्षमता केवल उन्हीं में ही है और उन्होंने कुम्भ स्नान, कोरिया की यात्रा, वार मेमोरियल जैसे सभी कार्यो को बिना परिवर्तन किए निभाया।

उन्होंने कहा था कि यह नया भारत है जो न रुकेगा, न झुकेगा। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जिस तरह देश तरक्की की राह पर अग्रसर है। 2019 में नमो अगेन का संकल्प जो हमने लिया है, वो निश्चित ही सिद्ध होगा। इससे पहले भारत-पाकिस्तान में तनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेंद मोदी द्वारा बृहस्पतिवार को भाजपा के मेरा बूथ सबसे मजबूत कार्यक्रम को संबोधित करने पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कड़ा विरोध जताया था। वहीं कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा के कर्नाटक में 22 सीटें मिलने के बयान को लेकर भाजपा को घेरा था। दिल्ली विधानसभा में बजट सत्र के अंतिम दिन चर्चा के दौरान केजरीवाल ने कहा था कि पुलवामा में हमारे 40 जवान आतंकी हमले में मार दिए गए और येदुरप्पा 22 सीटें मिलने की बात करते हैं।

उन्होंने भाजपा से पूछा कि 300 सीटें जीतने के लिए और कितने जवानों को शहीद करेंगे। कितने घर बर्बाद और कितनी औरतों को बेवा करेंगे। क्या वोटों और लोकसभा सीटों के लिए ही उन्होंने हमला करवाया। केजरीवाल ने कहा कि आज पूरा देश एक है।

Posted By: Prateek Kumar