गुरुग्राम [जेएनएन]। आरटीआइ कार्यकर्ता हरिंद्र धींगड़ा ने दैनिक जागरण को बताया कि फोर्टिस अस्पताल को जमीन लीज पर नहीं दी गई है बल्कि फ्री होल्ड है। उन्होंने सवाल किया कि ऐसी स्थिति में हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिज विज किस आधार पर लीज रद करने की बात कर रहे हैं? उन्हें यह कहना चाहिए कि जिस आधार पर हुडा ने जमीन दी है, यदि उसके अनुरूप काम नहीं किया गया है तो जमीन वापस ली जाएगी।

धींगड़ा ने बताया कि कुछ समय पहले आरटीआइ के माध्यम से जानकारी मांगी थी। संपदा अधिकारी हुडा ने जानकारी दी थी कि फोर्टिस अस्पताल को दी गई जमीन फ्री होल्ड है। आरटीआइ में यह भी जानकारी सामने आई है कि अक्टूबर 2016 तक फोर्टिस अस्पताल ने बीपीएल को बेड न देकर 20 करोड़ रुपये से अधिक की कमाई की।इससे साफ है कि अस्पताल ने सरकार के निर्देशों का पालन नहीं किया। इस आधार पर जमीन वापस ली जा सकती है। 

यह भी पढ़ें: ...इस वजह से जन्म के बाद मां ने नहीं देखा नवजात शिशु का चेहरा, नाम पड़ा 'कन्हैया'

यह भी पढ़ें: Fortis अस्पताल की फिर खुली पोल- पत्नी को मृत घोषित कर थमाया 3.5 लाख का बिल

Posted By: Amit Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस