नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। Weather Forecast: दिल्ली-NCR समेत पूरे उत्तर भारत में सर्दी में तेजी से इजाफा हो रहा है। शनिवार सुबह भी दिल्ली-एनसीआर के लोगों ने ठंड महसूस की, लोग फुल बाजू का स्वैटर और जैकेट पहने नजर आए। खासकर स्कूली बच्चे गर्म कपड़े पहनकर स्कूल पहुंचे।

वहीं, मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, दिल्ली-एनसीआर में तेज सर्द हवा का सिलसिला फिलहाल जारी रहेगा। इसके साथ ही ठंड का दौर भी जारी रहेगा। मंगलवार तक हवा की रफ्तार तेज ही रहेगी। बुधवार से थोड़ी हल्की पड़ेगी, लेकिन न्यूनतम तापमान जल्द ही 10 डिग्री से नीचे आ जाएगा। सुबह-शाम की ठिठुरन भी अब शुरू होने वाली है। शनिवार को सुबह एनसीआर के कई इलाकों में हल्का कोहरा देखने को मिला।

9 डिग्री तक आ सकता है पारा

मौसम विभाग के अनुसार उत्तरी हवा इस समय पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और राजस्थान में चल रही हैं। यहां रात के तापमान में दो से तीन डिग्री तक कमी हो सकती है। बारिश के बाद मौसम साफ हो चुका है। दिल्ली एनसीआर में मौसम शुष्क ही बना रहेगा। मौसम विभाग के अनुसार बुधवार से हवा एक बार फिर धीमी हो जाएगी। रविवार से अधिकतम तापमान 23 डिग्री और न्यूनतम तापमान महज 9 डिग्री पर सिमट सकता है। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 24.9 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से एक डिग्री कम है।

वहीं न्यूनतम तापमान भी 12.5 डिग्री सेल्सियस तक लुढ़क गया है। यह सामान्य से तीन डिग्री अधिक चल रहा है। अगले 24 घंटों के दौरान हवा की दिशा में बदलाव होगा। अब उत्तर पश्चिमी हवाएं राजधानी में आ रही हैं। इस दिशा से आने वाली हवा स्वच्छ होती है। इसकी गति भी मंगलवार तक 15 से 20 किलोमीटर प्रति घंटे के आसपास बनी रहेगी। हवा में नमी का स्तर 59 से 95 फीसद है। शनिवार को अधिकतम तापमान 25 और न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार हैं। 

तेज हवा से बड़ी राहत

लगातार दो दिन हुई बारिश और कई दिनों से चल रही तेज हवा ने दिल्ली-एनसीआर के प्रदूषण की कमर ही तोड़ दी है। नवंबर माह में पहली बार शुक्रवार को हवा संतोषजनक श्रेणी में दर्ज की गई। एयर इंडेक्स 100 से नीचे आ गया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी एयर बुलेटिन के अनुसार, शुक्रवार को दिल्ली का एयर इंडेक्स महज 84 रहा। इससे पहले 30 सितंबर को प्रदूषण स्तर दिल्ली को इतना साफ मिला था। इस दिन एयर इंडेक्स 68 रहा था। मौसम विभाग के अनुसार, शनिवार को भी प्रदूषण का स्तर सामान्य रहेगा। दिल्ली में उत्तर और उत्तर-पूर्व दिशा से हवा आएगी। वहीं सफर के मुताबिक, जल्द ही वायु प्रदूषण फिर से खराब स्थिति में पहुंच सकता है, क्योंकि अभी भी पराली जलाने के मामले आ रहे हैं। ऐसे में हवा का रुख बदलते ही दिल्ली-एनसीआर प्रदूषित होना शुरू हो जाएगा।

हवा के बाद ध्वनि प्रदूषण की निगरानी भी होगी बेहतर

वायु प्रदूषण के साथ अब ध्वनि प्रदूषण की निगरानी भी दिल्ली में बेहतर होगी। एनजीटी की सख्त चेतावनी के बाद दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) पूरा नेटवर्क तैयार कर रही है। इसके लिए दिल्ली में 26 नए मॉनिटरिंग स्टेशन बनेंगे। यह काम जनवरी के मध्य तक पूरा करने की कोशिश है। डीपीसीसी ने इसके लिए टेंडर जारी कर दिए हैं।

जानकारी के मुताबिक, तय किया जा रहा है कि किन 26 जगहों पर मॉनिटरिंग स्टेशन लगेंगे। प्राइवेट कंपनी डीपीसीसी के नियमों के तहत इन उपकरणों की सप्लाई, इंस्टॉल, ऑपरेट और मेंटेन करने का काम करेगी। सभी मॉनिटरिंग स्टेशन एक सेंट्रल सर्वर से जुड़े रहेंगे। मानकों के अनुसार, रिहायशी इलाकों में दिन के समय शोर 55 डेसिबल और रात के समय 50 डेसिबल से अधिक नहीं होना चाहिए।

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस