नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। त्योहारों का मौसम आते ही ट्रेनों में यात्रियों की भीड़ बढ़ जाती है। खासकर दीपावली और छठ पूजा में दिल्ली से बिहार-यूपी जाने वालों की संख्या लाखों में हो जाती है। ऐसे में ट्रेनों में कन्फर्म टिकट को लेकर मारामारी मची रहती है। ऐसे मौके पर रेलवे भी अपनी तरफ से स्पेशल ट्रेनों को चलाकर ज्यादा से ज्यादा लोगों को कन्फर्म टिकट देने की कोशिश करता है। इस बार भी दीपावली व छठ पूजा के समय ट्रेनों में भीड़ को ध्यान में रखकर रेलवे त्योहार विशेष ट्रेनें चलाने की घोषणा कर रहा है।

बिहार के साथ यूपी के लाखों लोगों को भी होगा फायदा 

दिल्ली से दरभंगा और पटना के लिए विशेष ट्रेनें चलाने का फैसला किया गया है। दोनों ट्रेनें सप्ताह में दो दिन चलेगी और इसमें वातानुकूलित व शयनयान के साथ ही जनरल कोच भी लगाए जाएंगे। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में दिल्ली से कुछ और शहरों के लिए विशेष ट्रेनें चलाई जाएंगी जिससे कि यात्रियों की परेशानी दूर हो सके।

दरभंगा-आनंद विहार टर्मिनल विशेष ट्रेन (05527/05528)

यह विशेष ट्रेन 23 अक्टूबर से 13 नवंबर तक प्रत्‍येक बृहस्पतिवार और रविवार को दरभंगा से दोपहर 01.15 बजे प्रस्‍थान करके अगले दिन दोपहर एक बजे आनंद विहार टर्मिनल पहुंचेगी। वापसी दिशा में आनंद विहार टर्मिलन से 24 अक्टूबर से 14 नवंबर तक प्रत्‍येक शुक्रवार और सोमवार को अपराह्न साढ़े तीन बजे चलकर अगले दिन अपराह्र पौने चार बजे दरभंगा पहुंचेगी। वातानुकूलित और शयनयान श्रेणी के कोच वाली यह विशेष ट्रेन मार्ग में जनकपुर रोड, सीतामढ़ी, बैरगनिया, रक्‍सौल, नरकटियागंज, गोरखपुर, बस्‍ती, गोंडा, सीतापुर, सीतापुर सिटी, मुरादाबाद और गाजि़याबाद स्‍टेशनों पर ठहरेगी ।

पटना-आनंद विहार टर्मिनल विशेष ट्रेन (03257/03258)

23 अक्टूबर से 13 नवंबर तक प्रत्‍येक बृहस्पतिवार और रविवार को पटना से रात्रि 10.20 बजे प्रस्‍थान करके अगले दिन अपराह्न सवा तीन बजे आनंद विहार टर्मिनल पहुंचेगी। वापसी दिशा में 24 अक्टूबर से 14 नवंबर तक प्रत्‍येक शुक्रवार और सोमवार को आनंद विहार टर्मिनल से रात्रि 11.30 बजे रवाना होकर अगले दिन शाम साढ़े पांच बजे पटना पहुंचेगी । वातानुकूलित तथा शयनयान श्रेणी के कोच वाली यह विशेष ट्रेन मार्ग में दानापुर, आरा, बक्‍सर, पंडित दीनदयाल उपाध्‍याय जंक्शन, प्रयागराज और कानपुर सेंट्रल स्‍टेशनों पर ठहरेगी ।

Faridabad Durga Puja: 12वीं पास गीता के जिद-जुनून की कहानी, 120 महिलाओं को दे रहीं रोजगार

Edited By: Prateek Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट