नई दिल्‍ली, एएनआइ। आइएनएक्‍स मीडिया मामले में कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व वित्‍त मंत्री पी चिदंबरम को वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए दिल्‍ली की कोर्ट में प्रस्‍तुत किया गया। इस मामले में सुनवाई के बाद कोर्ट ने पी चिदंबरम की हिरासत अवधि 27 नवंबर तक के लिए बढ़ा दी है। पी चिदंबरम की हिरासत की अवधि आज खत्‍म हो रही थी।   

बता दें कि आइएनएक्स मीडिया डील के मनी लांड्रिंग मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम फिलहाल हिरासत में हैं और वह अभी तिहाड़ जेल में हैं। इस केस में पिछले सोमवार को हाई कोर्ट के न्यायमूर्ति सुरेश कैट की पीठ के समक्ष सुनवाई होनी थी, लेकिन वकीलों और पुलिस के साथ हुए विवाद के बाद से वकील हड़ताल पर थे जिस कारण सुनवाई नहीं हो सकी थी।

इस मामले में ईडी ने चिदंबरम पर आरोप लगाया कि भ्रष्टाचार के लिए पी चिदंबरम ने बेटे कार्ति चिदंबरम के साथ मिलकर यह साजिश रची थी। इस मामले में उन्‍होंने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए विदेशी संवर्धन निवेश बोर्ड से मंजूरी दिलाई थी। इस पर जवाब में चिदंबरम ने कहा कि ऐसे कोई सुबूत पेश नहीं किए गए हैं जिनसे उनपर कोई भी आरोप साबित हो सके। 

मनी लांड्रिंग मामले में न्यायिक हिरासत में चल रहे चिदंबरम की जमानत याचिका कोर्ट ने पहले ही खारिज कर दी थी। उन्‍होंने कोर्ट से तबियत खराब होने के कारण अंतरिम जमानत की मांग की थी। इसके बाद एम्स में मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट पर हाई कोर्ट ने उनकी अंतरिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी। बता दें कि केद्रीय जांच एजेंसी ने चिदंबरम को 21 अगस्त को उनके घर से गिरफ्तार किया था।

सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई में किया जापानी तकनीक का जिक्र, अब खत्‍म होगा जानलेवा प्रदूषण

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप