जागरण संवाददाता, दिल्ली/गाजियाबाद। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सरकार की ओर से लॉकडाउन के समय में बढ़ोतरी की जा रही है। इस वजह से लोग अपने घरों से नहीं निकल रहे हैं। ऐसे में सार्वजनिक परिवहन प्रणाली पर बुरा असर पड़ रहा है। देश की लाइफ लाइन कही जाने वाली रेलवे पर इसका सबसे बुरा असर पड़ रहा है। साल 2020 में रेलवे की सभी सेवाएं दो माह तक बंद थी, उसके बाद जब खुली तो काफी प्रतिबंध लगे हुए थे।

अब फिर से वो ही दौर लौट आया है। लॉकडाउन के कारण लोग अपने घरों से नहीं निकल रहे हैं, इस वजह से रेलवे को नुकसान भी हो रहा है। नुकसान को देखते हुए रेलवे की ओर से अपनी कई सेवाओं को बंद कर दिया गया है। रेलवे की ओर से कहा गया है जब कुछ माह में हालात सामान्य हो जाएंगे तो इन ट्रेनों को फिर से पटरी पर चलाया जाएगा। इनमें लोकल, स्पेशल जैसी कई ट्रेनें शामिल हैं।

फिलहाल लॉकडाउन का समय बढ़ने के साथ ही गाजियाबाद से चलने वाली लोकल ट्रेनों को रदद कर दिया गया है। इससे दैनिक यात्रियों की परेशानी बढ़ गई है क्योंकि लॉकडाउन लगने के बाद भी यात्री लोकल ट्रेनों में सफर कर रहे थे। स्टेशन अधीक्षक कुलदीप त्यागी ने बताया कि मार्च माह से लोकल ट्रेनों का संचालन शुरू हुआ था। लेकिन लॉकडाउन की वजह से नौ मई तक फिर से ट्रेन संख्या 04335 मुरादाबाद-गाजियाबाद, ट्रेन 04445 नई दिल्ली-गाजियाबाद, ट्रेन 04447 गाजियाबाद- ट्रेन 04441 गाजियाबाद -नई दिल्ली, ट्रेन 04459 पुरानी दिल्ली-सहारनपुर को रद्द किया गय है। इसके अलावा मुरादाबाद व टुंडला को जाने वाली लोकल ट्रेन में रदद रहेंगी।

इससे पहले रेलवे की ओर से मेट्रो शहरों पंजाब व महाराष्ट्र की ओर जाने वाली ट्रेनों को भी रद्द कर दिया गया है। रेलवे के अनुसार अधिकांश शताब्दी एक्सप्रेस में 40 फीसद के करीब बुकिंग हो रही है। महाराष्ट्र व पंजाब की ओर जाने वाली कई अन्य ट्रेनों का भी यही हाल है। इन चीजों को देखते हुए उत्तर रेलवे ने 28 ट्रेनों को अगले आदेश तक निरस्त कर दिया है। इनमें वंदे भारत, शताब्दी, राजधानी, दुरंतों सहित कई अन्य ट्रेनें शामिल हैं। रेल अधिकारियों का कहना है कि कोरोना संक्रमण की वजह से कई लोग यात्रा करने से परहेज कर रहे हैं।

वहीं, लाकडाउन से यात्रियों को घर से रेलवे स्टेशन आने जाने में परेशानी हो रही है। महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल सहित कई राज्यों में सफर करने के लिए यात्रियों के पास आरटी-पीसीआर रिपोर्ट होनी चाहिए। इन वजहों से कई रूट पर यात्रियों की संख्या कम होने लगी है।

इन ट्रेनों को किया गया रद्द

- श्री माता वैष्णो देवी वंदे भारत एक्सप्रेस, हबीबगंज शताब्दी, नई दिल्ली से कालका के बीच चलने वाली दोनों शताब्दी, चंडीगढ़ शताब्दी, नई दिल्ली से अमृतसर के बीच चलने वाली दोनों शताब्दी, देहरादून शताब्दी, काठगोदाम शताब्दी नौ मई से निरस्त रहेंगी।

- नई दिल्ली-बिलासपुर राजधानी 11 मई से और हजरत निजामुद्दीन- चेन्नई राजधानी 12 मई से निरस्त रहेंगी।

- दिल्ली सराय रोहिल्ला-जम्मूतवी दुरंतो नौ मई से और निजामुद्दीन-पुणे दुरंतो और देहरादून जनशताब्दी दस मई से निरस्त रहेंगी।

- नई दिल्ली-कटड़ा उत्तर संपर्क क्रांति एक्सप्रेस नौ मई से और नई दिल्ली- कटड़ा श्री शक्ति एक्सप्रेस दस मई से नहीं चलेंगी।

- दिल्ली-बीकानेर एक्सप्रेस, नई दिल्ली-देहरादून त्योहार विशेष, सिद्धबलि एक्सप्रेस व दिल्ली से चलने वाली हिमाचल एक्सप्रेस नौ मई से, कोटा-देहरादून एक्सप्रेस दस मई से और सैनिक एक्सप्रेस 11 मई से निरस्त रहेंगी।