नई दिल्ली (जेएनएन)। दिल्ली के साथ-साथ एनसीआर के विभिन्न इलाकों में शनिवार सुबह झमाझम बारिश हुई। सुबह के दौरान हुई भारी बारिश से सड़कों पर जगह-जगह पानी भर गया। इससे सुबह-सुबह दफ्तर जाने वाले लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। सड़कों पर जगह-जगह पानी भरने से कई इलाकों में तो बसें तक पानी में डूबी नजर आईं।

रिंग रोड पर स्थित यमुना बाजार इलाके में डीटीसी की बस के अंदर पानी घुस गया। दमकल विभाग, दिल्ली पुलिस और स्थानीय लोगों की वजह से किसी तरह से बस में सवार लोगों को बाहर निकाला गया। उधर, दिल्ली से सीधे लखनऊ को जोड़ने वाले नेशनल हाइवे 24 पर भी पानी भरने के चलते वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई है। 

जलभराव के चलते स्थिति यह रही कि शनिवार सुबह करीब 9 बजे ही दिल्ली के रेल भवन के आगे सड़क पर करीब एक फीट तक पानी जमा हो गया। इसके चलते वाहन चालकों के साथ सुबह-सुबह काम पर जाने वाले लोगों को भी भारी दिक्कत पेश आई वहीं, स्कूल जाने वाले छात्र-छात्राओं को भी काफी परेशानी हुई।

दिल्ली के ज्यादातर इलाकों में जलभराव से लोगों की मुश्किलें बढ़ गईं। यमुना बाजार क्षेत्र में हनुमान मंदिर के पास सड़क में ही बस डूब गई, बड़ी मुश्किल से इसमें फंसे 30 यात्रियों को बचाया गया।

इस दौरान परिवहन कर्मियों, पुलिस के अलावा स्थानीय लोगों ने बस यात्रियों को बाहर निकालने में मदद की।

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली के विभिन्न स्थानों पर बारिश की वजह से जाम भी लगा हुआ है। मंडी हाउस, इंडिया गेट और लुटियंस जोन के आपसास की सड़कों पर भारी बारिश से जलभराव से दिक्कत हो रही है।

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली में तेज़ बारिश से लुटियंस इलाके की कई सडकों पर पानी भरना शुरू हो गया है। मंडी हाउस मेट्रो स्टेशन के गोल चक्कर पर पानी भर गया है। इसके अलावा, विकास मार्ग, दिल्ली पुलिस हेड क्वार्टर के सामने भी सड़क पर भारी पानी जमा है। इसके चलते जाम भी लगा। आइटीओ के पास लंबा जाम लगा गया, जिससे हजारों गाड़ियों ने रेंग-रेंगकर अपना सफर पूरा किया। 

इन इलाकों में जलभराव से लगा जाम

1.मोती बाग

2. आनंद विहार

3. यमुना विहार

4.आइटीओ

5. मंडी हाउस

6. इंडिया गेट

7. लक्ष्मी नगर

8. एनएच-24

9. विकास मार्ग

10. दरियागंज

दिल्ली के साथ एनसीआर के इलाकों नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद के कुछ इलाकों में सुबह 6 बजे तेज बारिश हुई। वहीं, दिल्ली से सटे गुड़गांव और फरीदाबाद, बल्लभगढ़, सोनीपत में भी बारिश से लोगों को परेशानी हुई, लेकिन ग्रामीण इलाका होने के चलते फसलों के लिए राहत की बात है।

वहीं, दिल्ली में तेज बारिश के चलते राष्ट्रपति भवन में होने वाले गार्ड सेरेमनी का कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया है।

उधर, दो दिनों से बारिश कम होने से गर्मी और उमस ने फिर से परेशान करना शुरू कर दिया था, लेकिन शनिवार को हो रही बारिश से राहत मिली है, लेकिन जलभराव से लोगों को परेशानी हुई।

वहीं, मौसम विभाग ने देश विभिन्न हिस्सों के लिए पूर्वानुमान जारी किया है। इसके मुताबिक, पूर्वी उत्तर प्रदेश, ओडिशा, मध्य प्रदेश और कर्नाटक के दक्षिणी इलाके में आज भी तेज बारिश हो सकती है।  विभाग ने अगले कुछ दिनों के लिए मौसम का पूर्वानुमान जारी किया है। इस पूर्वानुमान के मुताबिक, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, उत्तराखंड सहित देश के कई राज्यों में भारी बारिश चेतावनी दी है। 

बारिश के चलते रविवार को तापमान में फिर से गिरावट आएगी और औसत अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। बूंदाबादी की भी संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार चार से आठ सितंबर के बीच दिल्ली में 7 से 13 सेंटीमीटर बारिश होने की संभावना है।

इससे पहले शुक्रवार को दिल्ली का औसत अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहा। हवा में नमी का स्तर 61 से 85 फीसद दर्ज किया गया। 

मौसम विभाग की मानें तो दिल्ली में अगस्त में भी सामान्य से 17 फीसद कम बारिश हुई है। इसकी वजह पूरी दिल्ली के बजाय कुछ हिस्सों में बारिश का होना है। मौसम विभाग के मानसून पूर्व किए गए पूर्वानुमान से परे दिल्ली एनसीआर, हरियाणा, चंडीगढ़ और पंजाब में इस बार 23 फीसद तक कम बारिश हुई है। विभाग को अब इन राज्यों में अधिक बारिश होने की ज्यादा उम्मीद भी नहीं लग रही है, क्योंकि मौसम विज्ञानियों का मानना है कि अगले दो हफ्ते के भीतर मानसून इन राज्यों से विदाई ले लेगा।

Posted By: JP Yadav