नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। कृष्णा नगर स्थित विजय चौक के पास 'एक छोटी सी आशा' संस्था ने निश्शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया। इसमें लोगों को शुगर, आक्सीजन, दंत, रक्त आदि की निश्शुल्क जांच की गई। शिविर में करीब 300 लोगों ने पहुंचकर स्वास्थ्य की जांच कराई।

इसके साथ ही लोगों को डाक्टरों द्वारा निश्शुल्क परामर्श भी दिया गया। इस अवसर पर मुख्य रूप से स्थानीय विधायक एसके बग्गा मौजूद रहे। एसके बग्गा ने कहा कि यह संस्था निरंतर जनता की सेवा के लिए कार्यरत है। ऐसे नेक कार्यों के लिए वह हमेशा ही संस्था के साथ खड़े रहेंगे।

संस्था की उपाध्यक्ष शालिनी जुगल अरोड़ा ने कहा कि कोरोना के इस संकट काल में उन्होंने जनता की सेवा के लिए यह शिविर लगाया है। ताकि लोगों को निश्शुल्क जांच का लाभ मिल सके। कई लोग पैसे के अभाव में अपने स्वास्थ्य की देखभाल नहीं कर पाते हैं। ऐसे लोगों के लिए इस तरह के शिविर जरूरी हैं।

शिविर में राम सिंह अस्पताल के डा. दीपक सरीन, डा. श्रेय कुंद्रा ने लोगों को निश्शुल्क परामर्श दिए। इस मौके पर संस्था के अध्यक्ष जुगल अरोड़ा, सचिव लक्ष्मी भारद्वाज, राहुल कुमार, पंडित राजेंद्र, पंडित हरीश छाबड़ा, अनिल गौड़, दविंदर कपूर, विपिन खोसला, डा. प्रदीप सेडा, गौरव कोहली आदि मौजूद रहे।

बेटियों का विकास ही देश की प्रगति का रास्ता: गीतिका शर्मा

वहीं, राष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य में उत्तर पूर्वी जिलाधिकारी कार्यालय ने महिला शक्ति केंद्र व जिला आपदा प्रबंधन के साथ मिलकर हस्ताक्षर अभियान और साइकिल रैली का आयोजन किया। साथ ही जिले के सभी सरकारी स्कूलों में रचनात्मक लेखन प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। जिसमें दस चयनित छात्रों को पुरस्कृत भी किया गया।

साइकिल रैली का शुभारंभ मुख्य अतिथि जिलाधिकारी गीतिका शर्मा, अतिरिक्त जिलाधिकारी शुभांकर घोष व एसडीएम विक्रम बिष्ट ने मिलकर किया। इसकी शुरुआत यमुना विहार बी ब्लाक स्थित राजकीय कन्या विद्यालय से हुई और समापन नंदनगरी स्थित जिलाधिकारी कार्यालय पर किया गया।

रैली में सिविल डिफेंस की बालिकाएं, महिला शक्ति केंद्र व जिला आपदा प्रबंधन की टीम ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देते हुए भाग लिया। गीतिका शर्मा ने कहा कि बेटी एक अनमोल उपहार है। उनका विकास ही देश की प्रगति का रास्ता है। एक बेटी पढ़ लिखकर दो कुल का नाम रोशन करती है। शिक्षित बेटी दो परिवारों का विकास करती है।

Edited By: Prateek Kumar