नई दिल्ली [निहाल सिंह]।Delhi Dengu Case: वर्षा के बाद मच्छरजनित बीमारियों का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। यही वजह है कि हर दिन 60 लोग राजधानी में डेंगू की चपेट में आ रहे हैं। बीते एक सप्ताह में डेंगू 412 नए मरीजों के साथ कुल मरीजों का आंकड़ा एक हजार के करीब पहुंच गया है। अब तक राजधानी में डेंगू 937 मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। इसी प्रकार मलेरिया के 19 नए मरीजों के साथ कुल मरीजों का आंकड़ा 125 तक पहुंच गया है। चिकनगुनिया के भी तीन नए मरीजों की पुष्टि के साथ कुल मरीजों का आंकड़ा 23 तक पहुंच गया है।

दिल्ली नगर निगम द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार डेंगू के 412 मरीजों में से सर्वाधिक मरीज एमसीडी क्षेत्र में ही दर्ज हुए हैं। 316 मरीज एमसीडी क्षेत्र के हैं। जबकि नई दिल्ली नगरपालिका परिषद(एनडीएमसी) क्षेत्र से छह और दिल्ली कैंट क्षेत्र से 13 व रेलवे क्षेत्र से एक मरीज की पुष्टि हुई है। 76 मरीजों के पते की पुष्टि नहीं हुई है। इसी प्रकार मलेरिया के 19 मरीजों में से दस मरीज एमसीडी इलाके से हैं।

एक-एक मरीज एनडीएमसी क्षेत्र से है और सात मरीजों के पते की पुष्टि नहीं हुई है। चिकनगुनिया के तीन नए मरीजों में से एक मरीज एमसीडी इलाके से है तो दो मरीजों के पते की पुष्टि नहीं हुई है।

दिल्ली कैंट में टूटा तीन साल का रिकार्ड

राजधानी में वैसे तो सर्वाधिक मरीज एमसीडी क्षेत्र से आ रहे है, जिसकी बड़ी वजह एमसीडी का क्षेत्रफल और जनसंख्या का ज्यादा होना है, लेकिन दिल्ली कैंट जो कि एमसीडी की तुलना में बहुत ही छोटा है वहां पर रिकार्डतोड़ डेंगू के मरीजों की पुष्टि हो रही है।

इस वर्ष डेंगू के मरीजों के बीते तीन वर्ष का रिकार्ड तोड़ दिया है। वर्ष 2019 में एक जनवरी से 28 सितंबर तक डेंगू के 22 मरीजों की पुष्टि हुई थी। वर्ष 2020 में यह आंकड़ा दो ही था। वर्ष 2021 में यह आंकड़ा दस था और इस वर्ष यह आंकड़ा 33 तक पहुंच गया है।

बीते चार वर्षों में डेंगू की स्थिति

  • क्षेत्र-2022- 2021-2020-2019
  • दिल्ली नगर निगम: 573-220-184-124
  • नई दिल्ली नगर पालिका परिषद-22-17-22-11
  • दिल्ली कैंट-33-10-2-22
  • रेलवे-3-2-0-5
  • अपुष्ट पते-306-92-58-194
  • कुल-937-341-266-356

छह वर्षों में मच्छरजनित बीमारियों के मरीजों की स्थिति

  • वर्ष-मलेरिया-डेंगू-चिकनगुनिया
  • 2017-505-2152-368
  • 2018-347-650-89
  • 2019-419-356-97
  • 2020-176-266-69
  • 2021-113-341-56
  • 2022-125-937-23

नोट: आकंड़े प्रत्येक वर्ष एक जनवरी से लेकर 28 सितंबर तक के हैं।

चार साल में एमसीडी की कार्रवाई का विवरण

  • विवरण-        2019-2020-2021-2022
  • कितने घरों में पाया मच्छरों का लार्वा-149222-83339-133102-130544
  • कानूनी नोटिस भेजे गए-119815-63694-110119-96189
  • कितने लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की गई-14188-7029-15757-35668
  • कितने लोगों के चालान काटे गए-7497-3651-5733-13589
  • कितने तालाबों में गंबूजिया मछली को डाला गया-91-81-114-118

Edited By: Pradeep Kumar Chauhan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट