Move to Jagran APP

DU Academic Calendar 2024: डीयू ने अकादमिक कैलेंडर किया जारी, इन सेमेस्टरों की एक अगस्त से शुरू होंगी कक्षाएं

डीयू ने स्नातक (Delhi University Academic Calendar Released) के तीसरे चौथे पांचवे और छठवें सेमेस्टर के लिए अपना अकादमिक कैलेंडर जारी कर दिया। हालांकि शिक्षकों ने इसका विरोध किया है। कैलेंडर के अनुसार एक अगस्त से कक्षाओं का संचालन होगा तो वहीं पर 27 अक्टूबर से तीन नवंबर के बीच सेमेस्टर ब्रेक रहेगा। चार नवंबर से कक्षाएं फिर से सुचारू होंगी। जानिए बाकी अपडेट्स।

By uday jagtap Edited By: Monu Kumar Jha Thu, 11 Jul 2024 10:40 AM (IST)
DU Academic Calendar 2024: डीयू ने अकादमिक कैलेंडर किया जारी, इन सेमेस्टरों की एक अगस्त से शुरू होंगी कक्षाएं
DU News: डीयू में एक अगस्त से शुरू होंगी कक्षाएं। फाइल फोटो

जागरण संवाददाता, नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय ने स्नातक के तीसरे, चौथे, पांचवें और छठवें सेमेस्टर के लिए अपना अकादमिक कैलेंडर जारी किया है। इसमें नवीन सत्र में प्रवेश लेने वाले छात्रों के बारे में जानकारी नहीं है। डीयू पहले ही सीयूईटी परिणाम (CUET Results) देरी से आने के चलते सत्र में देरी होने की बात कह चुका है।

अकादमिक कैलेंडर पर शिक्षकों ने दी तीखी प्रतिक्रिया

उधर, अकादमिक कैलेंडर पर शिक्षकों ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। सीयूईटी के जरिये डीयू की प्रवेश प्रक्रिया को कठघरे में खड़ा किया है। कैलेंडर के मुताबिक एक अगस्त से कक्षाओं की शुरुआत होगी। 27 अक्टूबर से तीन नवंबर के बीच सेमेस्टर ब्रेक होगा। चार नवंबर से दोबारा कक्षाएं शुरू होंगी।

30 अप्रैल से शुरू होंगी प्रायोगिक परीक्षाएं

28 नवंबर से प्रायोगिक परीक्षाएं शुरू होंगी। 29 दिसंबर से एक जनवरी के बीच सर्दियों की छुट्टियां होंगी। दो जनवरी से दोबारा कक्षाएं शुरू होंगी। नौ से 16 मार्च तक मिड सेमेस्टर ब्रेक होगा। 17 मार्च से दोबारा कक्षाएं शुरू होंगी। 30 अप्रैल से प्रायोगिक परीक्षाएं शुरू होंगी।

13 मई से सेमेस्टर परीक्षाओं की शुरुआत होगी। एक जून से 20 जुलाई तक गर्मियों की छुट्टियां होंगी। डीयू की ओर से कैलेंडर जारी होने के बाद इंडियन नेशनल टीचर्स कांग्रेस ने कहा है कि कक्षाएं एक अगस्त से शुरू होनी हैं, लेकिन पहले सेमेस्टर के लिए कोई कैलेंडर जारी नहीं किया गया है।

जो फिर से कॉलेजों में भ्रम और अराजकता पैदा करने वाला है। डीयू को दिल्ली विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा के जरिये प्रवेश लेने चाहिए। डेमाक्रेटिक टीचर्स फ्रंट की सचिव प्रो. आभा देव हबीब ने कहा कि देश के केंद्रीय विश्वविद्यालयों में सीयूईटी और एनटीए ने प्रवेश प्रक्रिया को ठप कर दिया गया है। छात्र इसका खामियाजा भुगत रहे हैं।

यह भी पढ़ें: New Laws: डीयू की लॉ फैकल्टी में विद्यार्थी पढ़ सकेंगे तीनों नए कानून, सिलेबस में किए जाएंगे शामिल