नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। दिल्ली सरकार द्वारा छत्रसाल स्टेडियम में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्यमंत्री के भाषण पर भाजपा ने आपत्ति जताई है। उनका कहना है कि राष्ट्रीय पर्व के मंच का राजनीतिक दुरुपयोग करना अनुचित है। भाजपा के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गणतंत्र दिवस समारोह का दुरुपयोग केंद्र सरकार के खिलाफ टिप्पणी करने व उपराज्यपाल से टकराव बढ़ाने के लिए किया है। इसे किसी भी तरह से सही नहीं ठहराया जा सकता है।

केजरीवाल बनाम एलजी को लेकर क्या बोले सचदेवा?

सचदेवा ने कहा कि पिछले आठ वर्षों से केजरीवाल दिल्ली के उपराज्यपाल से सत्ता संघर्ष में उलझे हुए हैं। बुधवार को गणतंत्र दिवस समारोह के मंच से भी उन्होंने उपराज्यपाल को लेकर टिपण्णी कर स्पष्ट कर दिया है कि उन्हें संवैधानिक पद की मर्यादा का ध्यान नहीं है। चीन द्वारा भारत के सीमावर्ती क्षेत्रों में अतिक्रमण की कोशिश और चीन से व्यापार को लेकर उन्होंने टिप्पणी की, लेकिन सीमा पर दुश्मनों का मुंहतोड़ जवाब देने वाले भारतीय सेना का मनोबल बढ़ाने का लिए वह दो शब्द नहीं बोलते हैं। सेना को हतोत्साहित करने के लिए उससे उसके पराक्रम के सबूत जरूर मांग लेते हैं।

अपने हिस्से का जीएसटी माफ करे दिल्ली सरकार- सचदेवा

साथ ही सचदेवा ने कहा कि गणतंत्र दिवस समारोह खाने-पीने की वस्तुओं पर जीएसटी के मुद्दे को उठाने का मंच नहीं है। दिल्ली सरकार इस विषय को जीएसटी काउंसिल की बैठक में उठा सकती है या फिर वह अपने हिस्से का जीएसटी माफ कर सकती है। सचदेवा ने कहा कि  उनके भाषण से लगता है कि समस्याओं के समाधान निकालने से उनका कोई सरोकार नहीं है।

यह भी पढ़ें- Virender Sachdeva के राजनीतिक भविष्य पर जल्द होगा फैसला, BJP प्रदेश अध्यक्ष की दौड़ में ये नाम शामिल

यह भी पढ़ें- शिक्षकों को फिनलैंड भेजने पर अड़ी दिल्ली सरकार, विदेश में ट्रेनिंग करके आए टीचरों से बातचीत करेंगे CM केजरीवाल

Edited By: Abhi Malviya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट