Move to Jagran APP

Delhi: लिव-इन पार्टनर की हत्या कर मंदिर के बाहर मांग रहा था भीख, पुलिस ने आरोपी को दबोचा

दिल्ली के गीता कालोनी में लिव इन पार्टनर की हथौड़े से ताबड़तोड़ वार कर हत्या करने वाले शख्स को गीता कालोनी थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसने पुलिस को गुमराह करने के लिए पार्टनर की हत्या करने के बाद मौके पर एक सुसाइड नोट छोड़ दिया था। इसके बाद वह वेश बदलकर मंदिर के बाहर भीख मांग रहा था।

By SHUZAUDDIN SHUZAUDDINEdited By: Shyamji TiwariPublished: Mon, 14 Aug 2023 06:01 PM (IST)Updated: Mon, 14 Aug 2023 06:01 PM (IST)
लिव-इन पार्टनर की हत्या कर मंदिर के बाहर मांग रहा था भीख

पूर्वी दिल्ली, जागरण संवाददाता। गीता कॉलोनी इलाके में लिव इन पार्टनर की हथौड़े से ताबड़तोड़ वार कर हत्या करने वाले शख्स को गीता कालोनी थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। महिला पार्टनर की हत्या करने के बाद आरोपित ने सुसाइड नोट छोड़कर कहा था कि वह खुदकुशी करने जा रहा है।

loksabha election banner

मंदिर के बाहर भीख मांग रहा था आरोपी

पुलिस ने 12 दिन की मेहनत के बाद आरोपित को यमुना बाजार स्थित हनुमान मंदिर के बाहर से भीख मांगते हुए गिरफ्तार किया है। आरोपित की पहचान शास्त्री नगर निवासी दीपक कुमार के रूप में हुई है। शाहदरा जिला पुलिस उपायुक्त रोहित मीना ने बताया कि एक अगस्त को शास्त्री नगर में एक महिला की हत्या की सूचना मिली थी।

ऑटो चालक के साथ रहती थी महिला

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची तो वहां पूजा नाम की महिला का शव पड़ा हुआ था। पुलिस को पता चला कि महिला वर्ष 2016 से अपने नाबालिग बेटे के साथ ऑटो चालक दीपक के साथ रह रही थी। 25 जुलाई को दोनों के बीच विवाद हुआ था, उसके बाद दीपक नजफगढ़ में जाकर रहने लगा। पुलिस को जांच के दौरान दीपक के घर में उसका एक नोट मिला।

अपनी पार्टनर के चरित्र पर उसे शक था

उसमें उसने लिखा हुआ था कि उसे अपनी पार्टनर के चरित्र पर शक था। इसलिए उसने उसकी हत्या की है, उसकी हत्या के बाद वह खुदकुशी करने जा रहा है। दीपक के मोबाइल की आखिरी लोकेशन गीता कालोनी में यमुना के पास की मिली। उसके बाद से ही उसका फोन बंद आ रहा था।

पुलिस ने उसकी बहन से संपर्क किया तो उसने बताया कि उसके भाई ने उसे कॉल करके कहा था कि वह मरने जा रहा है। थानाध्यक्ष सत्यवान लठवाल, इंस्पेक्टर सीपी सिंह, शशिकांत व अन्य की टीम बनाई। पुलिस ने मोबाइल लाकेशन के जरिये यमुना किनारे मिले शवों की पहचान की। किसी भी शव की पहचान दीपक से नहीं हुई।

पुलिस को शक था कि दीपक ने खुद को पुलिस से बचाने के लिए खुदकुशी की बात कही है। पुलिस ने रेलवे स्टेशन, बस अड्डे, गुरुद्वारे व मंदिरों में उसकी तलाश की। पुलिस जांच करते हुए हनुमान मंदिर के बाहर पहुंची, वहां पर आरोपित वेश बदलकर भीख मांग रहा था। पुलिस ने उसे दबोच लिया।

हथौड़ा मारकर पार्टनर की हत्या की

आरोपित ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उसने पूजा की हत्या की है। साजिश पहले ही रच ली थी। उसने नजफगढ़ में जो कमरा लिया था, वहां एक सुसाइड नोट लिखकर छोड़ा था। वह पूजा के घर पहुंचा और उसके बेटे को ट्यूशन भेजकर घर में रखे हथौड़े से वार कर उसकी हत्या कर दी। बाद में उसने खुद के हाथ की नस काटकर खुदकुशी की कोशिश की थी, लेकिन वह मरने की हिम्मत नहीं जुटा सका। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल हथौड़ा बरामद कर लिया है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.