नई दिल्ली (जेएनएन)। दिल्ली में पति द्वारा पत्नी की हत्या करने का अजब मामला सामने आया है। पति ने दिल्ली में हत्या के बाद पत्नी का शव पोटली में बंद कर कार से 280 किलोमीटर दूर ले जाकर मसूरी (उत्तराखंड) में फेंक दिया गया। पति ने चालाकी दिखाते हुए पत्नी का शव ठिकाने लगाने के बाद वापस दिल्ली लौटने पर उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई।

जांच के दौरान हत्या की बात सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस पति समेत पांच ससुरालियों को लेकर मसूरी पहुंची और महिला का शव बरामद किया।

यह भी पढ़ेंः प्रेमी के साथ संबंध छिपाने के लिए मां बनी डायन, ऐसे किया अपने ही खून का क़त्ल

हैरानी की बात है कि शव रखी कार तीन राज्यों (दिल्ली, यूपी और उत्तराखंड) से होकर गुजरी, लेकिन कहीं भी चेकिंग में पकड़ में नहीं आई। 

बता दें कि दिल्ली में पीतमपुरा के हर्ष विहार इलाके में प्रॉपर्टी डीलर ललित जैन ने 8 दिसंबर को रानीबाग थाने में पत्नी सिल्की जैन (35) की गुमशुदगी दर्ज कराई थी।

मसूरी पुलिस के सब इंस्पेक्टर मुकेश डिमरी के मुताबिक, जांच में पत्नी की हत्या की बात सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस पति ललित जैन, ललित के भाई, भाई के साले, भाभी और पिता को लेकर शुक्रवार सुबह मसूरी पहुंची। यहां स्थानीय पुलिस के साथ हाथी पांव क्षेत्र में सर्च अभियान शुरू किया।

जांच के दौरान पुलिस को कोर्ट मंकजी रोड से लगी खाई में बोरे में बंद शव मिला। शव की पहचान शिल्पी जैन के तौर पर हुई।

जांच में सामने आया है कि सिल्की जैन की हत्या दिल्ली स्थित घर पर तीन दिसंबर की रात की गई। इसके बाद शव को बोरे में डालकर ललित जैन, ललित का भाई कमल जैन और कमल का साला नयन कार से 4 दिसंबर की सुबह छह बजे मसूरी पहुंचे और बोरे को खाई में डालकर वापस दिल्ली लौट गए।

हैरानी की बात है कि जिस कार से सिल्की जैन के शव को मसूरी लाया गया, वह तीन दिसंबर की रात दिल्ली बॉर्डर क्रास कर यूपी पहुंची। यहां से 4 दिसंबर की सुबह यूपी बॉर्डर क्रास कर यह कार उत्तराखंड पहुंची। लेकिन कहीं भी रास्ते में कोई चेकिंग नहीं हुई। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस