नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। रविवार को नगर निगम के लिए हुए मतदान के बाद 13638 पोलिंग बूथों की इवीएम मशीन कड़ी सुरक्षा के बीच 42 जगहों पर स्ट्रांग रूम में रखी गई हैं। स्ट्रांग रूम के बाहर सुरक्षा बलों का कड़ा पहरा है। साथ ही सीसीटीवी कैमरों से भी सुरक्षा व्यवस्था पर 24 घंटे निगरानी गी जा रही है। सात दिसंबर को मतों की गणना होगी।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के लिए त्रिस्तरीय सुरक्षा घेरा बनाया है। इसमें अंदरुनी सुरक्षा अर्धसैनिक बलों के हवाले हैं।यहां पर करीब 20 से 30 जवानों की तैनाती की गई है। फिर दूसरे चरण में दिल्ली पुलिस के जवानों की तैनाती की गई है। इसमें भी 20 से 30 जवानों को तैनात किया गया।

तीसरे चरण में स्ट्रांग रूम की इमारत की सुरक्षा शामिल है। यहां पर शार्प शूटरों की तैनाती की गई है। इस पूरे सुरक्षा घेरे की निगरानी की कमान एसीपी के हाथ में है।

10 केंद्रों पर 56 वार्डों की होगी मतगणना

मतगणना को लेकर सभी तैयारी पूरी कर ली गई है। दक्षिणी पश्चिमी व पश्चिमी जिले में स्ट्रांग रूम में ईवीएम को बंद कर दिया गया है। साथ ही वहां की सुरक्षा के लिए सुरक्षाकर्मियों को तैनात कर दिया गया है। दक्षिणी पश्चिमी व पश्चिमी जिले में 56 निगम वार्ड आते हैं। इसके लिए 10 मतगणना केंद्र बनाए गए हैं। सात दिसंबर को सुबह आठ बजे से मतगणना का कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

प्रत्याशियों की नजर भी मतगणना केंद्र परइलाके के प्रत्याशी अपने-अपने मतगणना केंद्र पर नजर रखे हुए हैं। उनके कार्यकर्ता समय-समय पर केंद्र के आसपास का चक्कर लगा रहे हैं, जिससे कि कहीं कोई गड़बड़ी नहीं हो सके। उधर, पुलिस अधिकारियों ने बताया कि हर जगह सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। कैमरे के फुटेज की मानीटरिंग हो रही है। साथ ही केंद्र के बाहर पुलिस की पीसीआर वैन भी चक्कर लगा रही है। किसी प्रकार की गड़बड़ी की कोई गुंजायश नहीं है।

मतगणना केंद्र के आसपास तैनात रहेंगे सुरक्षाकर्मी

सात दिसंबर को मतगणना केंद्र के आसपास सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे। समर्थकों को मतगणना केंद्र से सौ मीटर पहले ही रोका जाएगा। इसके लिए बैरीकेडिंग लगाई जाएगी। साथ ही यहां पर दिल्ली पुलिस व अर्धसैनिक बलों के जवान तैनात किए जाएंगे।

Edited By: Abhishek Tiwari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट