Move to Jagran APP

Delhi MCD Election में AAP की ओर से महिलाओं ने लहराया परचम, चुनाव में गूंजा आधी आबादी का मुद्दा

दिल्ली नगर निगम चुनाव के नतीजे बुधवार को घोषित हो चुके हैं जिसमें आम आदमी पार्टी ने 250 में से 134 सीटों पर जीत दर्ज कर के ऐतिहासिक जीत दर्ज की है। दूसरे नंबर पर 104 सीटों पर जीतकर भारतीय जनता पार्टी रही तो वहीं नौ सीटें कांग्रेस ने जीती।

By Nidhi VinodiyaEdited By: Published: Thu, 08 Dec 2022 10:13 AM (IST)Updated: Thu, 08 Dec 2022 10:13 AM (IST)
Delhi MCD Election में AAP की ओर से महिलाओं ने लहराया परचम, चुनाव में गूंजा आधी आबादी का मुद्दा
Delhi MCD election 2022 में महिला उम्मीदवारों ने मारी बाजी, फोटो जागरण

नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क । दिल्ली नगर निगम चुनाव के नतीजे बुधवार को घोषित हो चुके हैं, जिसमें आम आदमी पार्टी ने 250 में से 134 सीटों पर जीत दर्ज की है। दूसरे नंबर पर 104 सीटों पर जीतकर भारतीय जनता पार्टी रही तो वहीं नौ सीटें कांग्रेस ने जीती। इस चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 134 सीटों पर जीत दर्ज की है जिनमें से 55 प्रतिशत महिलाएं है। इस चुनाव में महिलाओं के मुद्दों को लेकर भी काफी वोट डले हैं।  

loksabha election banner

AAP ने 138 महिलाए उम्मीदवार थीं। वहीं भाजपा ने 136 महिला उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था। कांग्रेस की 129 महिला उम्मीदवार मैदान में उतरी थीं। भाजपा की 136 उम्मीदवारों में से 52 जीती थीं।

15193 मतों के अंतर से की जीत हासिल

बता दें कि कांग्रेस की शगुफ्ता चौधरी ने 15,193 मतों के अंतर से जीत हासिल की, जो निकाय चुनावों में दूसरा सबसे बड़ा वोटों का अंतर है। 2017 के चुनावों में, बसपा, इंडियन नेशनल लोक दल और समाजवादी पार्टी के कुछ उम्मीदवारों ने चार निर्दलीय उम्मीदवारों के साथ जीत हासिल की थी। 11 पार्षद ऐसे भी थे जो कि भाजपा, आप या कांग्रेस से नहीं थे। इस बार के नगर निगम चुनाव में एक भी वार्ड छोटे दलों के पास नहीं गया है, सिर्फ तीन निर्दलीय उम्मीदवार जीते हैं।

महिला उम्मीदवारों ने किया कमाल का प्रदर्शन 

आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार चित्रा विद्यार्थी ने अपनी जीत के बाद कहा कि महिला उम्मीदवारों एन इस बार कमाल का प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि, 'मैं बहुत खुश हूं कि मुझे अपने वार्ड में लोगों की सेवा करने का मौका मिल रहा है। आप विकास के लिए काम करने वाली पार्टी है और हम पदभार ग्रहण करने के बाद उसी पर ध्यान केंद्रित करेंगे।'

स्वच्छता करना मेरी प्राथमिकता - शैली ओबेरॉय

86 नंबर वार्ड की उम्मीदवार शैली ओबेरॉय ने जीत के बाद कहा कि मुझे खुशी है कि मैं उस इलाके से जीती जिसे आदेश गुप्ता का गढ़ माना जाता है। इस बार हम सब के लिए एक मजबूत लड़ाई है। शैली ओबेरॉय ने कहा कि आप एक ऐसी पार्टी है जो अपने वादों को पूरा करती है, जो लोगों के लिए काम करती है। मेरे पद संभालने के बाद स्वच्छता और कचरे की सफाई करना मेरी प्राथमिकता होगी। वहीं निर्दलीय उम्मीदवार शकीला बेगम, जो कि पूर्वोत्तर दिल्ली के सीलमपुर से जीतीं।

पूर्व महिला महापौर भी हुई MCD चुनावों में उतरी

दिल्ली की तीन पूर्व महिला महापौर भी भाजपा के टिकट पर MCD चुनावों में खड़ी हुई थी। इन्हें भी निकाय चुनावों में विजयी प्राप्त हुई है- नीमा भगत, सत्या शर्मा और कमलजीत सहरावत। बता दें कि नीमा भगत और सत्य शर्मा ने पूर्वी दिल्ली के महापौर के रूप में कार्य किया है और कमलजीत सहरावत दक्षिण दिल्ली के पूर्व महापौर है।

वहीं गीता कॉलोनी वार्ड से जीते नीमा भगत ने कहा कि, 'मैं बहुत खुश हूं, हमारी जीत से हमारे क्षेत्र मेंब में जश्न का माहौल है। हमारी पार्टी ने निकाय चुनावों में अच्छी टक्कर दी है। द्वारका-बी वार्ड से जीत दर्ज करने वाले सहरावत ने ट्विटर पर मतदाताओं का शुक्रिया अदा किया। वहीं शर्मा गौतम पुरी वार्ड से जीतीं हैं। उत्तरी दिल्ली के एक पूर्व मेयर सिविल लाइंस वार्ड से चुनाव हार गए। खास बात यह है कि दिल्ली नगर निगम (MCD) के 250 वार्डों में 50 फीसदी सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित हैं।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.