नई दिल्ली, संजीव गुप्तादिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को दावा करते हुए कहा कि राजधानी में कोरोना संक्रमण काबू में है। एक महीने पहले जो हालात थे अब वैसे हालात नही हैं। अब स्थिति काफी कंट्रोल में आ गई है। केजरीवाल ने कहा कि जब लॉकडाउन खोला गया तब उम्मीद कि केस बढ़ेंगे। लेकिन इतनी तेजी से कोरोना के मरीज सामने आएंगे उसकी उम्मीद नहीं थी।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की एक वेबसाइट है वह हमें यह बताती है कि आने वाले समय में कोरोना संक्रमण की स्थिति क्या होगी। उस वेबसाइट के मुताबिक जिस स्पीड से केस दिल्ली में बढ़ रहे थे उसके मुताबिक 30 जून को दिल्ली में एक लाख के करीब केस होते। उसमें से लगभग 60,000 एक्टिव केस होते और लगभग 15000 बेड की जरूरत पड़ती यानी स्थिति गंभीर थी। लेकिन ऐसी नही हुआ।

कोरोना पर काबू पाने के लिए डबल कर दी मेहनत

सीएम ने कहा कि कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए सरकार ने मेहनत डबल कर दी। जिससे हो सकता था सब से मदद मांगी। सारे सरकारी अस्पतालों को ठीक किया। सारे होटल वालों से मिले। होटल वालों ने केस कर दिया लेकिन केस हमारे हक में आया।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए सरकार ने टेस्ट की संख्या बढ़ा दी है। पहले 100 लोगों का टेस्ट करते थे तो उसमें से करीब 31 लोग पॉजिटिव पाए जाते थे लेकिन अब 100 में से केवल 13 कोरोना पॉजिटिव पाए जाते हैं। यह सारी चीजें दिखाती हैं कि स्थिति काफी कंट्रोल में आ गई है। यह हम सब लोगों की मेहनत का नतीजा है। लेकिन इससे खुश होकर सरकार हाथ पर हाथ रखकर नही बैठेगी। यह वायरस ऐसा है कि इसके बारे में यह नहीं पता कि कब केस फिर से बढ़ जाएगा। सरकार अपनी तरफ से पूरी कोशिश जारी रखेगी।

सीएम ने की जनता से नियम का पालन करने की अपील

केजरीवाल ने बताया कि एक्सपर्ट्स कह रहे हैं कि दिल्ली में कोरोना का पीक (peak) आ चुका है। सभी लोगों से अपील है कि इन सब पर ध्यान न दें और मास्क पहनते रहें, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें, चौकन्ना रहें। सीएम ने कहा कि हम अच्छे की उम्मीद करेंगे लेकिन तैयारी हम सबसे खतरनाक स्थिति की करेंगे ताकि आने वाले समय में कोई दिक्कत न हो।

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस