Move to Jagran APP

Delhi Excise Policy: तीन नवंबर तक बढ़ी विजय नायर व समीर महेंद्रू की न्यायिक हिरासत

Delhi Excise Policy Case नई आबकारी नीति से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय द्वारा गिरफ्तार किए गए उद्यमी समीर महेंद्रू की न्यायिक हिरासत जहां राउज एवेन्यू की विशेष सीबीआइ अदालत ने न्यायिक हिरासत तीन नवंबर तक बढ़ा दी।

By Vineet TripathiEdited By: Prateek KumarPublished: Thu, 20 Oct 2022 03:33 PM (IST)Updated: Thu, 20 Oct 2022 03:33 PM (IST)
Delhi Excise Policy:कोर्ट ने महेंद्रू के मामले में तिहाड़ जेल अधीक्षक से मेडिकल रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है।

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। नई आबकारी नीति से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय द्वारा गिरफ्तार किए गए उद्यमी समीर महेंद्रू की न्यायिक हिरासत जहां राउज एवेन्यू की विशेष सीबीआइ अदालत ने न्यायिक हिरासत तीन नवंबर तक बढ़ा दी। वहीं, आबकारी नीति में भ्रष्टाचार से जुड़े केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआइ) के मामले में आम आदमी पार्टी (आप) के मीडिया प्रभारी विजय नायर की न्यायिक हिरासत भी तीन नवंबर तब बढ़ा दी गई है।

loksabha election banner

तिहाड़ जेल अधीक्षक को मेडिकल रिपोर्ट पेश करने का आदेश 

न्यायिक हिरासत की अवधि समाप्त होने पर ईडी और सीबीआइ ने दोनों को विशेष न्यायाधीश एमके नागपाल की अदालत में पेश किया था। अदालत ने इस दौरान महेंद्रू के मामले में तिहाड़ जेल अधीक्षक से मेडिकल रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है।

28 सितंबर को ईडी ने की थी महेंद्रू की गिरफ्तारी 

अदालत ने दस अक्टूबर को ईडी हिरासत पूरी होने पर महेंद्रू को 20 अक्टूबर तक के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था।मामले में ईडी ने महेंद्रू को 28 सितंबर को गिरफ्तार किया था। वहीं, दूसरी तरफ सीबीआइ ने नायर को 27 सितंबर को गिरफ्तार किया था। छह अक्टूबर को सीबीआइ हिरासत समाप्त होने पर नायर को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया था।

AIIMS में सांसदों के इलाज के लिए विशेष व्यवस्था पर बढ़ा विवाद, डॉक्टरों ने कहा- बढ़ेगी असमानता

क्या है नायर पर आरोप

नायर पर आराेप है कि नायर ने दूसरों के साथ आपराधिक साजिश रची और साजिश को आगे बढ़ाने के लिए आबकारी नीति-2021-2022 बनाई और क्रियान्वित की गई।यह भी दावा किया कि इसका मकसद सरकारी खजाने की कीमत पर शराब निर्माताओं और वितरकों को अनुचित और अवैध लाभ प्रदान करना था। इस नीति के कारण सरकार को भारी राजस्व का नुकसान हुआ।

Delhi PGT Recruitment Rules: 30 से ऊपर है उम्र तो नहीं बन सकेंगे पीजीटी, दिल्ली सरकार ने बदले भर्ती के नियम

दिल्ली- एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.