नई दिल्ली [मनीषा गर्ग]। नवादा मेट्रो स्टेशन, नजफगढ़, द्वारका सेक्टर-18 अतुल्य चौक, आईआईटी के नजदीक फ्लाईओवर के पास, घोंडा से मौजपुर चौक की ओर जाने वाली मुख्य सड़क समेत दिल्ली के कई हिस्से में बीते दिनों सड़क धंसने की शिकायत सामने आई है।

हल्का धंस गया है सड़क का हिस्सा

अब पालम फ्लाईओवर से दिल्ली कैंट मेट्रो स्टेशन की तरफ जाने वाली सड़क की सर्विस लेन में बड़ी दरार आ गई है। फुटपाथ समेत सड़क का कुछ हिस्सा हल्का सा धंस भी गया है। अफसोस की बात यह है कि यह दरार बीते कई हफ्तों से देखी जा रही है और दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है। पर अभी तक इसी सुध नहीं ली गई है। ट्विटर पर पीडब्ल्यूडी को शिकायत देने के 24 घंटे बाद भी कोई कार्रवाई सुनिश्चित नहीं की गई है।

दरार के आसपास कोई संकेतक नहीं

ज्ञात हो नवादा मेट्रो स्टेशन के पास धंसी सड़क पर भी कई दिनों से दरार देखी जा रही थी। हालांकि एहतियात के तौर पर दिल्ली पुलिस ने दरार के आसपास बेरिकेडिंग कर लोगों को सचेत कर दिया गया था, पर दिल्ली कैंट में अभी तक इस तरह की कोई पहल नहीं हुई है। दरार के आसपास कोई संकेतक नहीं है, ऐसे में साफ है जिस तरह का पीडब्ल्यूडी विभाग का ढुलमुल रवैया है, यदि सड़क धंसती है तो बड़ा हादसा हो सकता है और कई लोग दुर्घटनाग्रस्त हो सकते है।

हो सकता है बड़ा हादसा

द्वारका में भी एकाएक सड़क के धंस जाने पर एक कार चालक दुर्घटनाग्रस्त हो गए थे और नजफगढ़ भी ट्रक चालक के दुर्घटनाग्रस्त होने की बात सामने आई थी। दूसरा देश की सुरक्षा के लिहाज से यह क्षेत्र काफी संवेदनशील क्षेत्र है, क्योंकि इस सर्विस लेन से भारतीय सेना के कई ट्रक गुजरते है, भारतीय सैनिक इसी सर्विस लेन में सुबह-शाम आम लोगों के साथ दौड़ते व कसरत करते हुए नजर आते हैं।

अधिकारी ने कहा जल्द होगा समधान

पालम निवासी नितिका अग्रवाल ने बताया कि मैं इस सर्विस लेन में रोजाना सुबह तड़के दौड़ लगाने के लिए आती हूं। शनिवार को अचानक मेरी नजर सड़क पर आई दरार पर पड़ी। यह खतरनाक हो सकता है, अधिकांश लोगों का इस दिशा में कोई ध्यान नहीं है। संबंधित एजेंसी को चाहिए कि वे जल्द से जल्द समस्या का स्थायी समाधान सुनिश्चित करें, ताकि एक बड़े हादसे को टाला जा सके। पीडब्ल्यूडी के कार्यकारी अभियंता ने बताया कि समस्या के बाबत अभी तक कोई सूचना नहीं मिली थी। यह बड़ा खतरा साबित हो सकता है, जल्द से जल्द इसका स्थायी निदान सुनिश्चित किया जाएगा।

Edited By: Prateek Kumar