नई दिल्ली [लोकेश चौहान]। Coronavirus Lockdown Day 6: लाॅकडाउन के दौरान किसी भी पैदल व्यक्ति को दिल्ली से बरह जाने की अनुमति नहीं है, वहीं किसी भी पैदल व्यक्ति को दिल्ली में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। कोई भी डीटीसी या निजी बस दिल्ली से बाहर नहीं जाएगी, न ही दिल्ली में प्रवेश करेगी। सभी डीटीसी की बसों को बस स्टैंड पर रोककर वापय भेज दिया जाए। अगर किसी भी निजी बस में कोई सवारी दिखाई देती है, तो उसे सीज कर दिया जाए। रविवार की देर रात में ये निर्देश दिल्ली के पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने दिल्ली के सभी पुलिसकर्मियों को दिए।

उन्होंने कहा कि सभी एसएचओ और एसीपी से लेकर डीटीसी स्तर के अधिकारी अपने क्षेत्र में लगातार गश्त करेंगे। दूसरे राज्यों से आए लोगों को और वे लोग जो दूसरे राज्यों के निवासी हैं, लेकिन दिल्ली में हैं, उन्हें भी दिल्ली से बाहर निकलने से रोकना है। दिल्ली की सीमा में कोई भी पैदल व्यक्ति प्रवेश न कर पाए। इसके लिए पिकेट बढ़ाई जाए। जांच को और सघन किया जाए।

वहीं, दिल्ली में लोगों का प्रवेश रेलवे ट्रेक के जरिये भी हो रहा है। ऐसे में रेलवे ट्रेक और मेट्रो ट्रैक पर भी नजर रखी जाए। यहां से कोई व्यक्ति दिल्ली में प्रवेश न कर सके, वहीं दिल्ली से कोई भी पैदल व्यक्ति बाहर न निकले। बसों के मूवमेंट को पूरी तरह से रोकना है। कोई भी डीटीसी की बस दिल्ली के बाहर नहीं जाएगी। जो भी बस जिस भी बस स्टॉप पर रुकती है, उसे वहीं राेक लिया जाए। जो कोई भी निजी बस दिल्ली से बाहर जाती हुए मिलती है और उसमें लोग हैं, उसे सीज कर दिया जाए।

टैंकरों में छिपाकर अगर लोगों को दिल्ली के बाहर भेजा जा रहा है, तो ऐसे वाहनों को भी जब्त किया जाए। पैदल लोगों को दिल्ली में उनके रहने की जगह पर लौटने की चेतावनी दी जाए। इसके बाद भी लोग सड़कों पर रहते हैं तो उन्हें हिरासत में लिया जाए। सड़कों पर किसी भी प्रकार से पैदल लोगों की मूवमेंट नहीं होनी चाहिए। उसे पूरी तरह से रोकना है।

दिल्ली में लोग जहां से भी प्रवेश कर सकते हैं, वहीं पुलिस जांच बढ़ाई जाए। पुलिस के जितने भी वाहन हैं, सभी को पेट्रोलिंग पर लगाया जाए। ये वाहनों से अनाउंसमेंट करेंगे कि दिल्ली में जो भी श्रमिक जहां भी कार्य कर रहे हैं, उन्हें सरकार उनका पूरा वेतन देगी। यहां के लोग जहां भी जाएंगे, वहां कोरोना वायरस फैलेगा, ऐसी चेतावनी लोगों को दें। पैदल लोगों को रोकने के लिए उन्हें हिरासत में लिए जाने की चेतावनी भी दें। अगर लोग नहीं मानते हैं, तो उन्हें हिरासत में ले लिया जाए। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस