नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। कोरोना के संक्रमण के मामले बढ़ने से स्वास्थ्य विभाग में हलचल बढ़ गई है। इसलिए स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना की रोकथाम के लिए निगरानी बढ़ा दी है। इसके तहत कोरोना से संक्रमित हुए लोगों के संपर्क में आए लोगों की घर-घर जाकर पड़ताल शुरू कर दी गई है, ताकि ऐसे लोगों की पहचान कर उनकी जांच कराई जा सके।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, सभी जिलों में स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा घर-घर जाकर पड़ताल की जा रही है। लोगों के बीच कोरोना को लेकर जागरुकता भी फैलाई जा रही है। 

31,275 लोग अब भी हैं घरों में क्वारंटाइन

विदेश से आए और कोरोना से पीड़ित लोगों के संपर्क में आए 31,275 लोग अब भी घरों में क्वारंटाइन हैं। इसमें 18 मार्च से 22 मार्च के बीच विदेश से आने वाले 19,782 लोग व कोरोना पीड़ितों के संपर्क में आने वाले 11,493 लोग शामिल हैं।

आरके पुरम में लोगों को जागरूक करने के साथ बांटा गया खाना

आरके पुरम में लोगों को जागरूक करने व कोरोना को हराने के लिए शुक्रवार को अभियान चलाया गया। इसके साथ ही गरीबों को खाना भी बांटा गया।दक्षिणी दिल्ली नगर निगम की साउथ जोन की चेयरमैन व आरके पुरम वार्ड की पार्षद तुलसी जोशी ने बताया कि जागरूकता अभियान के दौरान लोगों को लॉकडाउन को सफल बनाने व सरकार की ओर से जारी की गई एडवाइजरी का पालन करने की अपील की गई।

उन्होंने लोगों को बताया कि कोरोना को अभी भी कुछ लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। इसे गंभीरता से लेते हुए जागरूक होकर सरकार की ओर से दिए गए निर्देशों का पालन करने की जरुरत है। जागरूकता और स्वच्छता से ही कोरोना को हराया जा सकता है।

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस