नई दिल्ली, जेएनएन। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को मुस्लिमों को वोटों का गणित समझाया। दिल्ली में वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में बंटे वोटों का ब्योरा देते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली में भाजपा को कुल 46 फीसद मत मिले थे, जबकि आम आदमी (आप) के प्रत्याशियों को 33 फीसद वोट मिले थे। इसी तरह कांग्रेस पार्टी के खाते में 15 फीसद मत गए थे। इस बार राजनीतिक विश्लेषक भाजपा से 10 फीसद वोट कटने का अनुमान लगा रहे हैं। अगर यह मत कांग्रेस को गया तो उसके मात्र 25 फीसद मत होंगे। अगर आप के खाते में गया तो दिल्ली में सत्तारूढ़ दल आप का मत फीसद बढ़कर 43 फीसद हो जाएगा।

अजान देने वालों के वेतन बढ़ाने का एलान
दिल्ली में भाजपा को आप ही हरा सकती है। उन्होंने मुस्लिम धर्म गुरुओं से आग्रह करते हुए कहा कि वह इस गणित को समझें और वोटों को बंटने न दें, अगर वोट बंटे तो फिर भाजपा जीत जाएगी। इस मौके पर दिल्ली वक्फ बोर्ड के चेयरमैन अमानतुल्लाह खान ने इमामों और मुअज्जिनों (अजान देने वाले) के वेतन में भारी बढ़ोतरी का भी एलान किया।

मोदी-शाह के अलावा जो भी होगा पीएम उम्‍मीदवार उसे देंगे समर्थन
ऐवान-ए-गालिब सभागार में मुस्लिम धार्मिक शिक्षकों को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी बनाम राहुल गांधी की सीधी लड़ाई की बातें साजिश हैं। अभी तो यह किसी को पता नहीं है कि प्रधानमंत्री कौन बनेगा, लेकिन मोदी-शाह को नहीं बनने देंगे। इसके लिए वह किसी भी हद तक जाने को तैयार हैं। इसके अलावा, जो भी बन रहा होगा उसको समर्थन दे देंगे। कांग्रेस अगर जीतती है तो उसको भी समर्थन देने को तैयार हैं।

मोदी ने देश को धर्म के नाम पर बांट दिया
इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मोदी और शाह की जोड़ी ने देश का बेड़ागर्क कर दिया है। 70 सालों में पाकिस्तान तमाम कोशिशों के बाद भी भारत को नहीं बांट सका, लेकिन इन दोनों की जोड़ी ने देश को धर्म और जाति के नाम पर बांट दिया। इस मौके पर उन्होंने अमानतुल्लाह खान को अपना शेर बताते हुए उनकी पीठ भी ठोकी। कार्यक्रम में दिल्ली विधानसभा की उपसभापति राखी बिड़ला, दिल्ली सरकार में मंत्री कैलाश गहलोत व इमरान हुसैन, दिल्ली हज कमेटी के चेयरमैन हाजी इशराक, वक्फ बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मो. ए. अदीब, विधायक मनोज कुमार, गुलाब सिंह व महेंद्र गोयल व पूर्वी दिल्ली लोकसभा की प्रभारी आतिशी भी मौजूद रहीं। संचालन दिल्ली राज्य हज कमेटी के कार्यकारी अधिकारी डॉ. अशफाक अहमद अर्फी ने किया।

सभी इमामों और मुअज्जिनों को वक्फ बोर्ड देगी वेतन
दिल्ली वक्फ बोर्ड के चेयरमैन अमानतुल्लाह खान ने राष्ट्रीय राजधानी के सभी इमामों और मुअज्जिनों को वेतन देने की बड़ी घोषणा की। वहीं वक्फ बोर्ड के इमामों और मुअज्जिनों के वेतन में भारी बढ़ोतरी का एलान करते हुए कहा कि यह पैसा फरवरी माह से मिलने लगेगा। वक्फ बोर्ड के अंतर्गत आने वाले 188 मस्जिदों के इमामों को आठ हजार की जगह 18 हजार रुपये और मुअज्जिनों को नौ हजार की जगह अब 16 हजार मासिक वेतन मिलेगा। वहीं, निजी मस्जिदों को भी अब इस लाभ के दायरे में लाने से दिल्ली के करीब 1500 मस्जिदों में तैनात इमामों व मुअज्जिनों को आर्थिक लाभ मिलेगा। अब यहां तैनात इमामों को 14 हजार और मुअज्जिनों को 12 हजार रुपये मासिक वेतन मिलेगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस