नई दिल्ली, जेएनएन। रेल यात्री सेवा समिति के चेयरमैन रमेश चंद्र रत्न ने नई दिल्ली स्टेशन का दौरा किया। उन्होंने स्टेशन पर उपलब्ध यात्री सुविधाओं का जायजा लिया। इस बीच एक स्टॉल पर चेतन भगत की किताब ‘हाफ गर्लफ्रेंड’ को देखकर वह भड़क गए। उन्होंने इसे अश्लील बताते हुए रेलवे स्टेशनों से हटाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यह उनकी जिम्मेदारी है कि रेलवे स्टेशन पर किसी भी ऐसी चीज की बिक्री नहीं हो, जिससे समाज में गलत संदेश जाए। उन्‍होंने मंगलवार को किए दौरे के बाद ये सारी बातें कहीं। 

राष्‍ट्रीय अखबारों की बिक्री पर दिया जोर
उन्होंने कहा कि रेलवे स्टेशनों पर सांस्कृतिक, राष्ट्रीय पत्रिका व अखबारों की बिक्री होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कई रेलवे स्टेशनों पर अश्लील किताबें व पत्रिकाएं पकड़ी गई हैं। इनसे समाज में गलत संदेश जाता है और महिलाओं से छेड़खानी व अन्य अपराध भी बढ़ते हैं। उन्होंने रेलवे अधिकारियों और पुस्तक विक्रेताओं को इसे तत्काल हटाने को कहा है। इस बीच उन्होंने यात्री सुविधाओं का निरीक्षण किया और यात्रियों से बात कर उनकी समस्याएं पूछी।

पिछली बार हुआ था विवाद
कुछ माह पहले भी चेयरमैन ने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन का दौरा किया था। उस समय स्टेशन निदेशक के साथ उनकी बहस हो गई थी और रेलवे कर्मचारियों ने उनके खिलाफ नारेबाजी भी की थी। हालांकि, इस बार उनके दौरे को लेकर किसी तरह का विवाद नहीं हुआ। उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार ने कहा कि समिति के चेयरमैन ने जो कहा है, उसे लेकर कानून के मुताबिक जो भी उचित कार्रवाई होगी वह की जाएगी।

स्टॉल पर नहीं मिली रेट लिस्ट, 50 हजार जुर्माने को कहा
प्लेटफॉर्म नंबर 16 पर मौजूद यात्रियों ने जनआहार स्टॉल पर महंगा खाना देने का आरोप लगाया। उस स्टॉल पर रेट लिस्ट नहीं लगी थी और शुद्ध पेयजल भी उपलब्ध नहीं था। चेयरमैन ने अधिकारियों को स्टॉल वाले के खिलाफ 50 हजार रुपये का जुर्माना करने को कहा। इसी तरह से रेलवे के एक स्टॉल पर बासी बर्गर मिलने पर उसके खिलाफ भी कार्रवाई करने को कहा।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों के लिए यहां करें क्‍लिक 

Edited By: Prateek Kumar