नई दिल्ली, जेएनएन। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (All india institute of medical sciences) के 64वें स्थापना दिवस के अवसर पर बुधवार को दो महत्वपूर्ण सुविधाओं की शुरुआत की गई। एक से आम लोगों को सुविधा मिलेगी तो दूसरे से एम्स में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को लाभ होगा। इसके अलावा एम्स परिसर में लोगों को अंगदान के लिए जागरूक करने का कैंप भी लगाया गया। एम्स के ऑडिटोरियम में स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने के लिए प्रदर्शनी भी लगाई गई।

एम्स टेलीफोन डायरेक्टरी एप की शुरुआत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन बतौर मुख्य अतिथि व केंद्रीय राज्य मंत्री अश्वनी चौबे बतौर विशिष्ट अतिथि पहुंचे। हर्षवर्धन ने एम्स टेलीफोन डायरेक्टरी एप व स्टूडेंट एडवांस्ड रिसोर्स एंड लर्निंग प्लेटफार्म की शुरुआत की। एम्स टेलीफोन डायरेक्टरी एप पहला ऐसा एप है, जिस पर एम्स के सभी विभागों व डॉक्टरों के नंबर और विभाग से संबंधित जानकारियां उपलब्ध हैं।

लेक्चर से संबंधित दस्तावेज का भी मिलेगा वीडियो

इसके अलावा स्टूडेंट एडवांस्ड रिसोर्स एंड लर्निग प्लेटफार्म पर एम्स में पढ़ाई करने वाले छात्र-छात्रएं ऑनलाइन पढ़ाई भी कर सकेंगे। शिक्षक इस ऑनलाइन प्लेटफार्म पर लेक्चर से संबंधित दस्तावेज व वीडियो अपलोड कर सकेंगे। एम्स के निदेशक प्रो. रणदीप गुलेरिया ने बताया कि पिछले 64 साल से एम्स पूरे भारत के लोगों का बेहतर उपचार कर रहा है। एम्स के डॉक्टर लगातार रिसर्च करते हैं। बेड व ओपीडी की संख्या बढ़ाने के साथ मेडिकल की पढ़ाई का विस्तार किया जाएगा।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: Pooja Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप