कैंडी,आइएएनएस। कप्तान दासुन शनाका का (102) शतक काम न आया चला गया और श्रीलंका को मंगलवार को  पल्लेकेले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में तीन मैचों की सीरीज के दूसरे मैच में जिम्बाब्वे से 22 रन से हार का सामना करना पड़ा। जिम्बाब्वे की ओर क्रेग एर्विन ने 98 गेंदों पर 91 रन की पारी खेली। वहीं तेंदई चतरा और ब्लेसिंग मुजरबानी द्वारा तीन-तीन विकेट लेकर सीरीज के पहले मैच में मिली हार से उबरकर सीरीज को 1-1 से बराबर कर दिया।

जिम्बाब्वे ने पहले बल्लेबाजी करते हुए एर्विन के 91 रन और सिकंदर रजा (56) अर्धशतकीय पारी की मदद से 50 ओवर में सात विकेट पर 307 रन बनाए। जवाब में, श्रीलंका की टीम 50 ओवरों में केवल 9 विकेट खतर 280 रन ही बना पाई। मेजबान टीम ने खराब शुरुआत से उबरने की कोशिश की, लेकिन जीत से दूर रह गई।

303 के लक्ष्य का पीछा करते हुए, श्रीलंका की शुरुआत निराशाजनक रही। 19 के स्कोर पर कुशाल मेंडिस (7) हो गए। इसके बाद टीम का स्कोर जल्द ही 63/4 पर हो गया। इसके बाग कामिंडू मेंडिस ने अर्धशतक लगाया और कप्तान शनाका के साथ शतकीय साझेदारी की और टीम का स्कोर को 181 तक पहुंचाया। कामिंडू के आउट होने के बाद शनाका ने  शानदार बल्लेबाजी जारी रखी। बावजूद वह टीम को जीत नहीं दिला सके।

श्रीलंका के कप्तान ने अपनी पारी में सात चौके और चार छक्के लगाए। उन्होंने 94 गेंदों का सामना किय। चमिका करुणारत्ने ने 34 रन बनाए। इससे पहले जिम्बाब्वे को अच्छी शुरुआत मिली। रेजिस चकाबवा (47) और ताकुदज़्वानाशे कैटानो (26) ने पहले विकेट के लिए 59 रन जुटाए। सीन विलियम्स ने 48 रनों की पारी खेली। ऐसे में मेहमान टीम बड़ा स्कोर खड़ा करने में सफल रही। 

संक्षिप्त स्कोर: 50 ओवर में जिम्बाब्वे 302/8 (क्रेग एर्विन 91, सिकंदर रजा 56 नाबाद, रेजिस चकाबवा 47; जेफरी वेंडरसे 3-51) 

श्रीलंका ने 50 ओवरों में 280/9 बनाए (दासुन शनाका 102, कामिंडु मेंडिस 57; तेंदई छतारा 3-52, ब्लेसिंग मुजरबानी 3-56)

Edited By: Tanisk